Monday, August 2, 2021
spot_img
HomeMain-sliderशासकीय भवन एवं सामाजिक मंदिरो में आज भी अनुसूचित जाति के लोगों...

शासकीय भवन एवं सामाजिक मंदिरो में आज भी अनुसूचित जाति के लोगों से भेदभाव-गैरतगंज

गैरतगंज/ जैसे जैसे समय बढ़ता जा रहा है वैसे वैसे लोगों में प्रेम भावनाएं बढ़ती जा रही हैं।समाज एवं जाति से बढ़कर लोगों में दोस्ती एवं प्रेम का संबंध बनता जा रहा है।वहीं दूसरी तरफ कई ऐसे गांव हैं जहां आज भी जातिवाद के नाम पर भेदभाव किया जा रहा है।जबकि शहरों में इस प्रथा को बंद कर दिया गया है ब सरकार द्वारा इस पर प्रतिबंध भी लगा दिया गया है।

मानव की मानसिकता में भी बदलाव देखने को मिल रहा है वही ऐसी घटनाएं जहां लोगों के साथ भेदभाव एवं मारपीट कर लज्जित किया जाता है।यह बहुत निंदनीय है।आज भी नीची जाति के लोग कुछ जगहों पर डर कर रह रहे हैं।ऐसी तस्वीरें मानवता को शर्मसार करने वाली है।वही खबर तहसील मुख्यालय गैरतगंज के अंतर्गत आने वाले ग्राम पाटन ग्राम पंचायत सिंहपुर जिला रायसेन मध्य प्रदेश की है।जहां अनुसूचित जाति के लोगों का कहना है कि उन्हें शासकीय भवन एवं सामाजिक मंदिर में अंदर जाने की अनुमति नहीं है वा जाने का प्रयास करते हैं।तो गंदी गंदी गालियां एवं जाति सूचक शब्दों का प्रयोग कर उनको बाहर निकाल दिया जाता है।बता दे कि ग्राम पाटन में जनभागीदारी से सामुदायिक भवन का निर्माण किया गया।जिसका शिलान्यास स्वास्थ्य मंत्री एवं सांची विधानसभा से विधायक डॉक्टर प्रभु राम चौधरी द्वारा किया गया।

इसी सामुदायिक भवन में गांव के सभी समाज के लोगों से चंदा लेकर सभी की सहमति से मंदिर का निर्माण भी किया गया।व 15/07/2021 को मंदिर में हनुमान जी की स्थापना की गई।तो सभी समाज के लोग मंदिर में हनुमान जी के दर्शन करने पहुंचे वही अनुसूचित जाति के लोग भी दर्शन करने पहुंचे परंतु उनको मंदिर में प्रवेश करने ही नहीं दिया गया बाहर ही रोक कर अभद्र व्यवहार एवं जाति सूचक शब्द गंदी गंदी गालियों के साथ उनको बाहर से ही भगा दिया।जिसमें ग्राम पटेल गोविंद सिंह धाकड़,हिम्मत सिंह धाकड़,राजवीर धाकड़,अतुल धाकड़,रामकेश धाकड़,राम गोपाल मिश्रा,इमरत लाल धाकड़ इत्यादि ने मंदिर में प्रवेश करने से मना किया कहा कि अगर तुम मंदिर में आए तो तुम्हारे हाथ पैर तोड़ देंगे और जान से मार देंगे अपनी औकात में रहो नीची जाति के लोग हो नीचे ही रहो जिसकी शिकायत गैरतगंज थाने में गैरतगंज थाना प्रभारी डीडी आजाद को ज्ञापन देकर सामाजिक समस्या एवं भेदभाव को देखकर ऐसे लोगों पर उचित कार्यवाही करने को कहा।

इनका कहना है-
अनुसूचित जाति के युवा आज अच्छी उपलब्धियां प्राप्त कर रहे हैं क्योंकि वह सामाजिक भेदभाव से दूर रहे हैं। जहां-जहां सामाजिक भेदभाव आज भी जिंदा है वहां के अनुसूचित जाति के लोग युवा पीढ़ी भी आज भी दबी कुचली हुई है क्योंकि उनके साथ भेदभाव कर उनकी मानसिकता को कमजोर किया जा रहा है।ग्राम पाटन थाना गैरतगंज मैं भी ऐसा मामला सामने आया है कि उनके साथ सामाजिक भेदभाव कर मंदिर में नहीं घुसने दिया और गाली गलौज कर मारपीट भी की अगर ऐसे लोगों पर कार्यवाही नहीं करी गई।तो हमारा पूरा समाज इसके खिलाफ गैरतगंज समेत रायसेन एवं समस्त मध्यप्रदेश में उग्र आंदोलन करेगा इसके जिम्मेदार गैरतगंज के स्थानीय अधिकारी कर्मचारी एवं जिले में बैठे वरिष्ठ अधिकारी होंगे राकेश मालवीय- जिला अध्यक्ष संत श्री गाडगे बाबा मालवीय/रजक समाज वही अनुसूचित जाति के समस्त वरिष्ठ व्यक्तियों व अन्य संगठनों मैं आक्रोश व्याप्त है।

डेली खबर अभिषेक मालवीय रायसेन

Spread the love
RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments

Spread the love