Tuesday, August 3, 2021
spot_img
HomeMain-sliderश्री नेमिनाथ जिनालय नवीन वेदी प्रतिष्ठा दो दिवस समारोह ग्राम जुझार में...

श्री नेमिनाथ जिनालय नवीन वेदी प्रतिष्ठा दो दिवस समारोह ग्राम जुझार में संपन्न,

दमोह/दमोह जिला मुख्यालय से करीब 20 किमी दूर बांदकपुर नोहटा मार्ग पर स्थित जुझार ग्राम में प्राचीन जैन मंदिर मैं नवीन वेदी प्रतिष्ठा अवसर पर याग मंडल विधान के साथ 2 दिन से आयोजन भक्ति भाव के साथ संपन्न हुआ इस अवसर पर आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों के अलावा दमोह नगर से भी बड़ी संख्या में श्रावक जन शामिल हुए। प्रतिष्ठाचार्य बाल ब्रह्मचारी जिनेश भैया एवं नरेश भैया गुरुकुल जबलपुर के सानिध्य एवं निर्देशन में आयोजित दो दिवसीय वेदी प्रतिष्ठा महोत्सव के प्रथम दिन श्री जी के अभिषेक शांतिधारा के पूजन साथ याग मंडल विधान संपन्न हुआ।

पर इस अवसर पर सौधर्म इंद्र बनने का सौभाग्य डॉ सुमेरचंद सिंघई श्रीमती मणि कांता सिंघई परिवार को प्राप्त हुआ। सुधीश आभा जैन को कुबेर इंद्र,लक्ष्मी चंद बबिता सिंघई को महायज्ञ नायक,अभय कंचन सराफ को यज्ञ नायक,पदम् शकुन जैन को चक्रवर्ती,अमर सेठ संजय सेठ को ईशान इंद्र,अनिल रश्मि सिंघई को सनत कुमार इंद्र,नेमकुमार कल्पना सराफ को महेंद्र इंद्र बनने का सौभाग्य प्राप्त हुआ।

वेदी प्रतिष्ठा अवसर पर धूमधाम के साथ घट यात्रा निकाली गई जिसमें महा पात्रों के साथ इंद्र इंद्राणियो एवं समाजजन शामिल हुए। कार्यक्रम शुभारंभ पर ध्वजारोहण का सौभाग्य विमल सगरया,प्रकाश गोयल,प्रमोद जैन श्रीमती सुनीता चिल्लर वाला परिवार को प्राप्त हुआ। प्रथम दिवस शांति धारा का सौभाग्य विमल सगरया सागर और नेम कुमार सराफ दमोह को प्राप्त हुआ।

मनीष जैन,ज्ञानचन्द्र,नरेंद्र कुमार,प्रकाश कुमार,उमेश कुमार,योगेश कुमार,जिनेंद्र जैन आदि परिवार को इंद्र बनकर याद मंडल विधान करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ। द्वितीय दिवस प्रातः बेला में श्री जी के अभिषेक पूजन उपरांत वेदी अनावरण करने का सौभाग्य श्रीमती जूही जैन कोयला वाला परिवार कटनी को प्राप्त हुआ। मूल नायक भगवान नेमिनाथ की स्थापना का सौभाग्य सुधीश आभा जैन,आभास जैन,आयुष जैन सिघई परिवार को प्राप्त हुआ।

द्वितीय प्राचीन प्रतिमा जी की स्थापना का सौभाग्य उत्तमचंद सिंघई,अनुराग सिंघई,अनुज सिंघई कोयला परिवार कटनी,तृतीय प्राचीन प्रतिमा जी की स्थापना का सौभाग्य राजेंद्र जैन अशोक कमर्शियल परिवार को प्राप्त हुआ। चतुर्थी प्रतिमा जी अभय सराफ अंकित सराफ जबलपुर को प्राप्त हुआ। स्थापना के पूर्व मूलनायक के अभिषेक का सौभाग्य अमर सेठ दमोह एवं उत्तमचंद सिंघई कोयला परिवार ने प्राप्त किया।

मूलनायक की प्रथम शांति धारा का सौभाग्य पत्रकार राजेंद्र अटल परिवार को प्राप्त हुआ। दूसरी शांति धारा अभय सराफ रोमी सराफ जबलपुर एवं तीसरी शांतिधारा का सौभाग्य सेठ वीरेश कुमार,राजेश कुमार,कमलेश कुमार परिवार ने प्राप्त किया। कलशारोहण का सौभाग्य सौरभ सिंघई,अक्षय आभास हर्ष आयुश सिंघई परिवार ने प्राप्त किया।

इस अवसर पर प्रतिष्ठाचार्य ब्रह्मचारी जिनेश  भैया जबलपुर ने चारों प्रकार के दान का महत्व बताते हुए कहा कि वर्तमान में कोरोना काल जैसे हालात को ध्यान में रखकर जिनालय के साथ औषधालय का होना भी जरूरी हो गया है। आचार्य श्री की प्रेरणा से उन्होंने जुझार मंदिर में भी औषधालय संचालन हेतु श्रावक जनों को प्रेरित किया तथा लोगों ने स्वेच्छा से दान राशि की घोषणा की।

कार्यक्रम अवसर पर दमोह से और औषधालय समिति के अध्यक्ष और दिगंबर जैन पंचायत के महामंत्री रूप चंद जैन संगम,कुंडलपुर कमेटी एवं जैन पंचायत के उपाध्यक्ष देवेंद्र सेठ,वरिष्ठ समाजसेवी तांती सेठ चाचा जी,कुंडलपुर निर्माण समिति के पूर्व अध्यक्ष वीरेश सेठ,भानु सराफा अभाना,संजय कंचन,राहुल जैन सहित बांदकपुर,अभाना, नोहटा,मेली,बनवार एवं आसपास के जैन समाज के वरिष्ठ जनों की सहभागिता रही। सभी का आभार अनिल गुड्डू सिंघई जुझार परिवार द्वारा व्यक्त किया गया।

मनोहर शर्मा दमोह

Spread the love
RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments

Spread the love