Monday, August 2, 2021
spot_img
HomeMain-sliderसत्ता पार्टी के ईशारों पर नाच रहे हैं श्री देवव्रत सिंह-सतीश पारख,

सत्ता पार्टी के ईशारों पर नाच रहे हैं श्री देवव्रत सिंह-सतीश पारख,

•सत्ता का सुख लेने के लिए दल बदलना चाहते है विधायक द्वय – JCCJ

•पहले काँग्रेस पर उपेक्षा का आरोप लगाकर कांग्रेस छोड़े अब अवसर का लाभ उठाने जनता कांग्रेस पर उपेक्षा करने का लगा रहे है आरोप।

•जब कांग्रेस ने किया था उपेक्षा किया तब जनता काँग्रेस ने ही दिया था सम्मान, जनता काँग्रेस के टिकट से बने विधायक,अगली टिकिट कांग्रेस से पाने का सपना देख रहे देवव्रत और शर्मा

•जनता कांग्रेस ना A टीम ना ही B टीम बल्कि छत्तीसगढ़ की C टीम मतलब छत्तीसगढ़ियों की पार्टी

•देवव्रत सिंह के बयान पर जोगी काँग्रेस का पलटवार।

भिलाई / जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के दुर्ग जिला ग्रामीण अध्यक्ष सतीश पारख ने खैरागढ़ विधायक श्री देवव्रत सिंह व बलौदा बाजार विधायक शर्मा के द्वारा जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) को भाजपा की B टीम कहने और अलग पार्टी बनाने के बयान पर पलटवार करते हुए कहा की जनता कांग्रेस ना किसी की A टीम है और ना ही B टीम है।

बल्कि जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ की C टीम है,अर्थात छत्तीसगढ़ियों की पार्टी है जो छत्तीसगढ़ीयों के स्वाभिमान की लड़ाई और छत्तीसगढ़ियों के अधिकार की लड़ाई लड़ रही है । रही बात जोगी कांग्रेस से विधायक बने श्री देवव्रत सिंह व शर्मा की तो वे कांग्रेस में अपनी जमीन तलाशने के लिए पशुपति पारस पासवान बनने मुंगेरीलाल के हसीन सपने देख रहें है।जो कभी पूरे नही होने वाले।

सतीश पारख ने कहा की विधायक श्री देवव्रत सिंह शायद वह दिन भूल गए जब उन्हें काँग्रेस ने उपेक्षित किया और वे काँग्रेस नेतृत्व पर ही हमला बोलते हुए काँग्रेस छोड़ जनता कांग्रेस प्रवेश किए थे तब जोगी पार्टी ने ही उन्हें सम्मान देकर खैरागढ़ से “हल चलाता किसान” चुनाव चिन्ह का टिकट देकर उन्हें जीता कर लाए थे ।

आज जब प्रदेश में कांग्रेस सत्तासीन हो गई है ऐसी स्थिति में श्री देवव्रत सिंह जी यूटर्न लेते हुए सत्ता की गाड़ी में बैठकर सत्ता का सुख लेने के लिए अब जोगी पार्टी पर उपेक्षा का आरोप लगा रहे हैं,अपना अलग दल बनाने का सपना देख रहे है और अवसर का लाभ उठाना चाहते है।अलग दल बनाकर भविष्य में कांग्रेस में शामिल होकर 2023 के चुनाव में कांग्रेस की टिकिट की सोच रहे हों तो उन्हें मुह की खानी पड़ेगी।

सतीश पारख ने कहा की दल बदल कानून के अनुसार किसी भी पार्टी से अलग होकर अलग दल बनाने लिए बहुमत का होना आवश्यक है । वर्तमान स्व जोगी जी के निधन होने के पश्चात जनता कांग्रेस में चार विधायक शेष है अगर देवव्रत सिंह जी के साथ तीन विधायक हैं तो निश्चित ही अलग होकर अपना दल बना सकते है । श्री देवव्रत सिंह जी पशुपति पारस पासवान बनने का सपना देख रहे हैं जो कभी पूरा नहीं हो सकता।

मनोज साहू पाटन

Spread the love
RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments

Spread the love