Tuesday, June 15, 2021
spot_img
HomeMain-sliderसुनार नदी में अचानक आई बाढ़ टापू में फंसे चार बच्चे,रेस्क्यू टीम...

सुनार नदी में अचानक आई बाढ़ टापू में फंसे चार बच्चे,रेस्क्यू टीम ने सकुशल निकाला,

साढ़े चार घंटे के रेस्क्यू बाद चारो बच्चो को सुरक्षित नदी से निकाला गया कलेक्टर एसपी मोके पर पहुंचे रेस्क्यू टीम को मिठाई खिलाकर सफल रेस्क्यू के लिए दी बधाई,

गढ़ाकोटा / मध्यप्रदेश के सागर जिले की गढ़ाकोटा से निकली सुनार नदी में बुधवार की रात्रि व गुरुवार की सुबह हुई फ्री मानसून की तेज बारिश के चलते आचनक नदी में उफान आ गया और नदी की तेज जलधारा के बीच टापू पर 4 बच्चे फंस गए जिसकी जानकारी लगते ही सनसनी फैल गई नदी में फंसे राजेन्द्र पिता रतन पटेल 13 वर्ष,दुर्गेश मोहन रजक 15 वर्ष,कृष्ण कुमार पिता भगवान सींग लोधी 15 वर्ष,आनंद पिता रतन पटेल 10 वर्ष बीच नदी में फंसने की जानकारी लगते ही प्रशासन हरकत में आ गया प्रशासनिक अमले से एडीसनल एसपी,एसडीओ पी,एसडीएम रहली ,गढाकोटा तहसीलदार ,पुलिस वल व क्षेत्रीय लोग भी मोके पर पहुंच गए और बच्चो को बचाने के लिए स्थानीय गोताखोरो को बुलाया गया लेकिन कड़ी मेहनत के बाद भी नदी में फंसे बच्चों के पास पहुंच गये थे और बच्चों को नदी से बाहर निकालने के लिए प्रयास किए जाने लगे थे लेकिन नदी में पानी के तेज बहाव के चलते स्थानीय गोताखोर सफल नही हो पाये तभी सागर से एसडी आर एफ की टीम को बुलाया गया। सागर से कुछ ही समय मे एसडी आर एफ टीम मौके पर पहुंचकर अविलंब रेस्क्यू आपरेशन शुरू किया गया और करीब दो घंटे कि मशक्कत के बाद आखिर बच्चो तक टीम को पहुंचने मे सफलता मिली ओर नदी से चारो बच्चो को सुरक्षित बाहर निकाला गया।ओर 108 एमबुलेंस की मदद से सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लाया गया ज्ञात हो कि बुधवार गुरुवार की रात प्री मानसून की बारिश हुई थी गुरुवार की सुबह जब बच्चे सुनार नदी मे नहाने गए थे उसी दौरान अचानक तेज बहाव आया नदी में फंस गए यह बच्चे गढ़ाकोटा से करीब 3 किलोमीटर दूर स्थित रनगुंवा गाँव निवासी है रेस्क्यू किए गए चारो बच्चो को सकुशल सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र भेजने के बाद सागर कलेक्टर दीपसिंह ओर सागर एसपी बच्चो से मिलने पहुंचे और रेस्क्यू टीम एसडी आर एफ टीम की प्रसंसा की गई साथ ही टीम के सभी सदस्यों को मिठाई खिलाकर उनका उत्साहवर्धन करते हुए सफल रेस्क्यू के लिए बधाई दी गई वही प्रशासन के द्वारा ग्रामीणों से अपील की गई वर्षाकाल का समय आ गया बच्चो को नदियों नालो से दूर रखा जाए ताकि कोई अप्रिय घटना घटित ना हो सके।

मनोहर शर्मा दमोह

Spread the love
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments

Spread the love