क्या आप भी कॉफी पीते समय करते हैं ये 4 गलतियां, हो जाएं सावधान, नहीं तो हो जाएगी ये बीमारी

[ad_1]

कॉफी गलतियाँ: आज के इस आधुनिक युग में कॉफी हर किसी का पसंदीदा हो चुका है। पीने से लोगों को काफी अच्छा लगता है। ऊर्जा का स्तर बढ़ जाता है। ध्यान और एकाग्रता की क्षमता बेहतर हो जाती है। इससे कई स्वास्थ्य लाभ भी होते हैं, लेकिन अक्सर कुछ लोग कॉफी पीने के कारण ऐसा करते हैं जिसकी वजह से वे भारी खामिया का शिकार होते हैं। आइए जानते हैं उन चार दस्तावेजों के बारे में जिनसे हमें बचना चाहिए। आप उन भ्रम को सुधार कर अपनी कॉफी को हेल्दी बना सकते हैं।

रात में कॉफी-अक्सर जो लोग रात में काम करते हैं या फिर जो छात्र रात को जाग कर पढ़ते हैं, वो देर रात तक कॉफी पीते हैं। ऐसा करना आपको नुकसान पहुंचा सकता है। कॉफ़ी में काफी अधिक मात्रा में कैफीन होता है जैसे ही पीते हैं आप काफी एनर्जी महसूस करते हैं, लेकिन अगर आप रात को पीते हैं तो आपकी नींद इससे बहुत अधिक प्रभावित होती है। आप अच्छी नींद नहीं लेते हैं। वहीं रात में कॉफी पीने से आपको पेट से जुड़ी बीमारियां भी हो सकती हैं। जैसे आप गैस और एसिडिटी से परेशान हो सकते हैं।

खबाब की कॉफी- जब भी कॉफी पिएं तो उसकी क्वॉलिटी का खास ख्याल रखें। अच्छी क्वालिटी की कॉफी पिएं.कॉमी कॉफी मेकिंग का स्टेटमेंट मैं कई बार कॉफी बींस पर कई तरह के केमिकल छिड़काव करता हूं जो इंसान के खाने के लायक नहीं होते हैं। ऐसी जब चीजें पेट में जाती हैं तो तबीयत खराब हो सकती है। पाचन खराब हो सकता है। उल्टी या मतली की आशंका हो सकती है। तो हमेशा स्वास्थ्य के लिए हाथ से अच्छे ब्रांड की ही कॉफी पिएं।

बहुत जयादा कॉफी-कुछ लोग ऐसे होते हैं जो कारबार बहुत ज्यादा पसंद करते हैं। उन्हें कॉफी पीने की लत लग जाती है और वो कॉफी ज्यादा मात्रा में बार-बार पीते हैं, जो उनकी सेहत के लिए खतरनाक हो सकता है। मानदंड के अनुसार पूरे दिन में एक से दो कप कॉफी भरा ठीक है। लेकिन अगर किसी तरह की बीमारी है तो कैफीन का सेवन करने से पहले डॉक्टर से जरूर पूछें।

शुगर का ज्यादा इस्तेमाल-कॉफी का स्वाद थोड़ा सा कड़वा होता है। ऐसे में लोग इसमें चीनी की मात्रा ज्यादा लेते हैं। लेकिन ऐसा करना स्वास्थ्य के लिए खतरनाक हो सकता है। वर्गीकरण की मात्रा तो आप कॉफी में कभी भी शुगर की मात्रा ज्यादा ना रखें। शुगर में फ्रुक्टोज की मात्रा काफी ज्यादा होती है, जो कि आम गड़बड़ी और कई गंभीर बीमारियों का कारण भी बन सकती है।

अस्वीकरण: इस लेख में बताए गए नुस्खे, तरीके और सलाह पर अमल करने से पहले डॉक्टर या संबंधित विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

यह भी पढ़ें: ट्रिप पर है जाने का प्लान तो सही तरीके से पैक करें अपना सामान, 6 ट्रिक्स जो सफर तक आसान

नीचे स्वास्थ्य उपकरण देखें-
अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की गणना करें

आयु कैलक्यूलेटर के माध्यम से आयु की गणना करें

[ad_2]

Source link

Umesh Solanki

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *