सत्ताधारी, जनप्रतिनिधि एवं नागरिकों ने गांधी ग्राम बनाकर गांधी धर्म को आत्मसात करना चाहिए

0
101
Spread the love

विश्व शांतिदूत प्रकाश आर अर्जुनवार

दुर्ग : वर्तमान समय देश दुनिया में सत्ताधारियों की दुर्लक्षता, अकर्मण्यता, राजनीतिक लोभ-लालच के चलते आर्थिक असमानता के कारण गरीबी अमीरी की खाई बढ़ती जा रही है। यही लोग पर्यावरण में भी असमानता बढ़ाया है ऐसे में महात्मा गांधी जी के विचार कार्य व दर्शन की प्रासंगिकता की महती आवश्यकता हो गयी है। कुछ धर्मांध लोगों द्वारा सत्ता के लालसा के कारण धार्मिक उन्माद फैलाकर हिंसा व अशांति का माहौल बनाकर देश के विकास में रोडा बन रहे हैं। इसलिए आज के समय में हिंदु मुस्लिम सिख ईसाई बौद्ध जैसे विविध धर्मो से ज्यादा जरूरी महात्मा गांधी धर्म को मानने की हो गयी। सरकार व जनप्रतिनिधियों से महत्वपूर्ण कार्य ग्रामीण व आम नागरिक हैं सभी ने मिलकर गांधीग्राम बनाकर गांधी धर्म को मजबूत कर व बच्चों को गांधी समझाकर देश दुनिया का चहुंमुखी विकास किया जाने का आग्रह किया गया।

उपरोक्त विचार महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय विचार मंच के अंतरराष्ट्रीय संयोजक एवं संस्थापक विश्व शांतिदूत प्रकाश आर अर्जुनवार ने व्यक्त किया है।

श्री अर्जुनवार सर्किट हाऊस दुर्ग में महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय विचार मंच की छत्तीसगढ़ राज्य इकाई पदाधिकारियों के सम्मेलन में बोल रहे थे।

सभा के मंच में महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय विचार मंच के राष्ट्रीय संयोजक श्री गिरधर मढ़रिया, महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय विचार मंच अंतरराष्ट्रीय सह-संयोजक श्री नरेन्द्र राठौर, महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय विचार मंच छत्तीसगढ़ राज्य इकाई संयोजक मनोज ठाकरे, महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय विचार मंच छत्तीसगढ़ राज्य इकाई अध्यक्ष दिनेश पटेल, पुर्व पार्षद श्री रजक एवं एल्डरमैन श्री डे की विशेष उपस्थिति थी।

विश्व शांतिदूत अर्जुनवार नजदीक से समझ आते महात्मा गांधी को समझाते हुए उपस्थितों से छत्तीसगढ़ राज्य को गांधी शांति राज्य बनाने का आव्हान किया।

सभा को गिरधर मढ़रिया, नरेन्द्र राठौर, राजेन्द्र रजक, ब्रम्हदेव पटेल, सेवाराम तेजस्वी, डॉ कुबेरसिंह गुरुपंच, संतोष साहू ने भी गांधीमय विचार व्यक्त किए।

सम्मेलन में राजेन्द्र रजक, संतोष साहू बालोद को छत्तीसगढ़ राज्य सहसंयोजक तथा श्रीमती कमल मैडम को दुर्ग जिला महिला प्रकोष्ठ संयोजक पद की नियुक्ति पत्र प्रदान किया गया।

सम्मेलन में श्रीमती विनीता मैडम, श्रीमती कल्याणी कंवर,कुलदीप कौर, डॉ कुबेर सिंह गुरुपंच, आनंद मारकंडे, सेवक रामनेले, गणेश वर्मा, राजकुमार देशमुख, श्रीमती जामुन साहू, राजेश साहू, राधेश्याम वर्मा, केशवराम, दुष्यंत कुमार, विनेश गजेंद्र, गोविंद वर्मा, गलव साहु, सेवाराम, तेजस्वी, परसराम साहू, आनंद मार्कण्डेय, बबलू साहू,रजनी पटेल,हेमंत दुबे, प्रभा यादव, वेंटेश, रुक्मणि गुप्ता, कविता बोस, माधुरी सराठे, योगेश बिष्ट, हेमंत सिल्हारे इत्यादि प्रमुख रूप से उपस्थित थे।

संचालन महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय विचार मंच छत्तीसगढ़ राज्य इकाई अध्यक्ष दिनेश पटेल ने किया तथा आभार प्रकट महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय विचार मंच छत्तीसगढ़ राज्य इकाई संयोजक मनोज ठाकरे ने किया।

Umesh Solanki

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here