Atiq Ahmed shot dead : यूपी में धारा 144 लागू, कड़ी सुरक्षा के बीच आज होगा डॉन ब्रदर्स का पोस्टमार्टम, प्रयागराज में इंटरनेट बंद

0
132
Spread the love

HighLights

1- माफिया अतीक अहमद और अशरफ की गोली मारकर हत्या

2- गोली मारने वाले तीनों आरोपी युवकों को मौके पर ही पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है

3- प्रदेश के सभी जिलों में सीआरपीसी की धारा-144 लागू

उमेश पाल हत्याकांड में पुलिस कस्टडी रिमांड पर लिए गए माफिया अतीक अहमद और उसके भाई अशरफ की शनिवार रात काल्विन अस्पताल के पास गोली मारकर हत्या कर दी गई।

दोनों को स्वास्थ्य परीक्षण के लिए काल्विन अस्पताल परीक्षण के लिए ले जाया जा रहा था। उसी समय 10 फायर किए गए। अतीक की कनपटी पर सटाकर एक गोली मारी गई। मीडिया कर्मियों के भेस में हमलावरों ने सनसनीखेज हत्याकांड को अंजाम देने के बाद समर्पण कर दिया। घटना के बाद जिले की सीमा को सील कर दिया है। मौके पर आरएएफ को भी बुला लिया गया है।

इस पूरे हत्याकांड मामले पर अलग-अलग प्रतिक्रियाएं आ रही हैं

अपर मुख्य सचिव, मुख्यमंत्री के सलाहकार सीएम आवास पर पहुंचे, देंगे पूरे मामले का अपडेट

अपर मुख्य सचिव गृह संजय प्रसाद व मुख्यमंत्री के सलाहकार मृत्युंजय कुमार सीएम योगी के आवास पहुंचकर उन्हें मामले की जानकारी देंगे।

प्रदेश के सभी जिलों में सीआरपीसी की धारा-144 लागू

प्रयागराज में अतीक अहमद और उसके भाई अशरफ की हत्या के बाद पुलिस द्वारा सुरक्षा कड़ी की गई है। प्रदेश के सभी जिलों में सीआरपीसी की धारा-144 लागू की गई है।

अतीक की हत्या पर राजनीति तेज, मायावती ने कहा- सुप्रीम कोर्ट स्वयं संज्ञान लेकर करे कार्रवाई

मायावती ने रविवार सुबह ट्वीट कर कहा है कि गुजरात जेल से अतीक अहमद व बरेली जेल से लाए गए उनके भाई अशरफ की प्रयागराज में कल रात पुलिस हिरासत में ही खुलेआम गोली मारकर हुई हत्या, उमेश पाल जघन्य हत्याकाण्ड की तरह ही, यूपी सरकार की कानून-व्यवस्था व उसकी कार्यप्रणाली पर अनेकों गंभीर प्रश्नचिन्ह खड़े करती है।

अतीक अहमद की हत्या के बाद सीताराम येचुरी ने “मुठभेड़ों, बुलडोजर राजनीति” पर साधा निशाना

अतीक अहमद की हत्या के बाद सीताराम येचुरी ने भाजपा सरकार पर हमलावर होते हुए कहा क‍ि, यूपी में बीजेपी योगी सरकार में जंगलराजइसकी यूएसपी है: मुठभेड़ हत्याएं, बुलडोजर राजनीति और अपराधियों को संरक्षण देना।कानून का शासन लागू करना; अपराधियों को पकड़ें और उन्हें कड़ी से कड़ी सजा दें

‘नहीं ले गए तो नहीं गए’: गोली लगने से पहले बेटे को दफनाने पर अतीक के आखिरी शब्द

माफिया से नेता बने अतीक अहमद और उनके भाई अशरफ की शनिवार को उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में गोली मारकर हत्या कर दी गई। हत्या से कुछ क्षण पहले, उमेश पाल हत्याकांड के आरोपी दोनों अपराधी मेडिकल के लिए ले जाते समय मीडिया से बात कर रहे थे और उनकी हत्या कैमरे में कैद हो गई।

हमारे देश का क़ानून संविधान में लिखा गया है, यह क़ानून सर्वोपरि है। प्रियंका गांधी वाड्रा

अपराधियों को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए, मगर देश के क़ानून के तहत होनी चाहिए। किसी भी सियासी मक़सद से क़ानून के राज और न्यायिक प्रक्रिया से खिलवाड़ करना या उसका उल्लंघन करना हमारे लोकतंत्र के लिए सही नहीं है।

यूपी: जहां हुई अतीक और अशरफ की हत्‍या वहां डीएम और पुलिस कमिश्नर के काफिले ने की गश्‍त

डीएम और पुलिस कमिश्नर के काफिले ने उस इलाके में गश्त की जहां कल अतीक अहमद और उनके भाई अशरफ को गोली मारी गई थी।

अतीक और अशरफ की हत्या के बाद मुख्यमंत्री के अधिकारियों के सतर्कता बरतने के निर्देश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को फील्ड में सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं। आम जनता को किसी प्रकार की परेशानी ना आए इसका ध्यान रखने को भी कहा गया है। उन्होंने कहा है कि प्रदेश में शांति व्यवस्था बनी रहनी चाहिए। मुख्यमंत्री योगी ने जनता से अपील की है कि किसी भी अफवाह पर ध्यान ना दें। अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी: उ.प्र. मुख्यमंत्री कार्यालय

पुलिस ने रात भर जिलों में किया फ्लैग मार्च

अतीक और अशरफ की हत्या के बाद यूपी में अलर्ट जारी कर दिया गया है। सभी जिलों में पुलिस ने रात में फ्लैग मार्च किया।

प्रदेश के सभी जिलों में सीआरपीसी की धारा-144 लागू

प्रयागराज में अतीक अहमद और उसके भाई अशरफ की हत्या के बाद पुलिस द्वारा सुरक्षा कड़ी की गई है। प्रदेश के सभी जिलों में सीआरपीसी की धारा-144 लागू की गई है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री को इस्तीफा दे देना चाहिए: अतीक अहमद अशरफ की हत्या पर कांग्रेस

लखनऊ के हुसैनाबाद में पुलिस ने फ्लैग मार्च निकाला।

अतीक के वकील की प्रतिक्रिया

माफिया अतीक अहमद के वकील विजय मिश्र ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि घटना मेरे सामने हुई है। अतीक व अशरफ मेडिकल चेकअप के लिए मोतीलाल नेहरू मंडलीय चिकित्सालय लाए गए थे। पुलिस की गाड़ी से उतरकर 10 कदम चलते थे तभी उनके ऊपर हमला कर दिया गया। हमलावर मीडियाकर्मी बनकर आए थे। उन्होंने पास से गोली मारी है।

अतीक अहमद की हत्या पर यूपी सरकार के मंत्री का बयान

Atiq Ahmed Shot Dead: बैरिकैड लगाए गए

Atiq Ahmed Shot Dead: नखास कोहना थाना शाहगंज के पास से काल्विन अस्पताल की ओर जाने वाली सड़क पर बैरिकेडिंग लगा दिए पुलिस ने और किसी को अस्पताल की तरफ जाने नहीं दिया जा रहा है।

Atiq Shot Dead: अतीक हत्याकांड पर अखिलेश यादव ने उठाए सवाल

सुरक्षा में चूक

दर्जनों सुरक्षाकर्मियों से घिरे हुए अतीक और अशरफ जब मारी गई थी गोली

अस्पताल में पहले से मौजूद थे हत्यारे

अस्पताल में पहले से मौजूद थे हत्यारे

Khan Javed

Executive Editor https://daily-khabar.com/

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here