Home Feature छत्तीसगढ़: कांग्रेस विधायक ने बीजेपी नेता को दी स्वैच्छिक अनुदान राशि, तस्वीर वायरल हो गई

छत्तीसगढ़: कांग्रेस विधायक ने बीजेपी नेता को दी स्वैच्छिक अनुदान राशि, तस्वीर वायरल हो गई

0
छत्तीसगढ़: कांग्रेस विधायक ने बीजेपी नेता को दी स्वैच्छिक अनुदान राशि, तस्वीर वायरल हो गई

[ad_1]

<पी शैली ="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफ़ाई करें;"छत्तीसगढ़ समाचार: मनेंद्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर ज़िले की मनेन्द्रगढ़ विधायक सदन से निकली दो तस्वीरें सोशल मीडिया में वायरल हो रही हैं बोलकर लोग तरह-तरह के कमेंट कर रहे हैं। फोटो का पहला चेक 25 हजार का चेक और दूसरा फोटो का चेक समय पर लिया जाता है। ये चेक वाले की तस्वीर इसलिए खास है क्योंकि चेक देने वाले कांग्रेस के विधायक हैं और चेक लेने वाले बीजेपी के बेरोजगार हैं। चुनावी साल में इस तरह की तस्वीर वायरल होने के बाद कांग्रेस-बीजेपी के नेताओं के बीच सांठगांठ की चर्चा भी तेज हो गई है और इस बात की भी चर्चा लोगों की जुबान पर है कि अपने जनाधार खो रहे विधायक अब दूसरे दल के नेताओं को ख़श कर चुनाव जीतने के जुगाड़ में हैं. 

<p style="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफ़ाई करें;"कांग्रेस विधायक का बीजेपी ब्राइट को गिफ़्ट
वायरल पिक्चर में हरे रंग की शर्ट और पीले रंग के गमछे व्यक्ति का नाम धर्मेंद्र त्रिपाठी है। धर्मेन्द्र त्रिपाठी बीजेपी के चिरमिरी मंडल के महामंत्री बताए जा रहे हैं और उनके हाथ में एक चेक है गारंटी मनेन्द्रगढ विधायक डॉ. विनय जायसवाल ने उन्हें आउट किया। विधायक ने त्रिपाठी को 25 हजार का ये चेक अपनी स्वेच्छा अनुदान की राशि से दिया है और विपक्षी दल के नेता इस चेक को बड़ी खुशी के साथ ग्रहण कर रहे हैं।

कांग्रेस विधायक डॉ. विनय जायसवाल की ओर से बीजेपी के महामंत्री को जब 25 हजार का चेक दिया जा रहा था तब इस तस्वीर के दाहिनी ओर टोपी और आंखों के शीशे भी इसके गवाह थे। दरअसल इनका नाम गणेश ठाकुर हैं और ये चिरमिरी मंडल के लाइव डिप्टी रहते हैं। मतलब साफ है कि कांग्रेस विधायक हाथों में स्वैच्छिक अनुदान लेने के लिए एक नहीं कई नौकरीपेशा अधिकारी पहुंचे थे। ग़ौरतलब है कि स्वैच्छिक अनुदान समाज में आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को उनके कुछ काम के लिए दिया जाता है, पर विधायक जी ने अपने कार्यकाल में ग़रीबों को छोड़कर वरीयता अनुदान की राशि साझा की है। 

<p style ="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफ़ाई करें;"पहले भी इंसान के पैसे का नशा करते हैं
डॉ. विनय जायसवाल के वैसे तो कई किस्से स्टोरी न्यूज की सुर्खियां बन जाती हैं लेकिन केवल स्वैच्छिक अनुदान की ही बात कर लें तो इस मामले में विधायक जी का रिकार्ड सही नहीं है। डॉ. विनय जायसवाल ने कुछ महीने पहले पापाराजी को ख़ुश करने के लिए स्वैच्छिक अनुदान राशि की अनुमति दी थी। हालांकि उस समय कुछ ट्रैपरेट ने अपनी राशि का चेक वापस कर दिया था जिसमें उन्हें दिखाया गया था। स्वैच्छिक अनुदान को साझा करने का मामला ग़ैर ख़ास मंदिरों, बीजेपी लीडर्स और पारादी तक सीमित नहीं है। अपने बड़बोलेपन के लिए चर्चित विधायक जायसवाल ने अपने कार्यकाल में महिला ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष, अपने दल के ही एल्डर मैन के अलावा अपने सहायक पीआरओ को भी स्वैच्छिक अनुदान की राशि दे दी है।

<p style="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफ़ाई करें;"चेक मामले में बीजेपी जिला अध्यक्ष ने दी सफाई
बीजेपी जिला अध्यक्ष अनिल केशरवानी से जब इस संबंध में सवाल किया गया तो वे सफाई देते हुए कहा कि हमारे मंडल महामंत्री धर्मेन्द्र त्रिपाठी ब्राह्मण समाज के भी महामंत्री हैं. समाज के अध्यक्ष की संभावना ठीक न होने के कारण ब्राह्मण समाज के लिए चेक राशि का चुनाव कर लिया गया था, लेकिन जब राष्ट्रपति के चुनाव के चेहरे के साथ इस तस्वीर से प्रभाव पर सवाल उठाया गया तब उन्होंने कहा कि व्यावहारिक दृष्टिकोण से उनका चेक नहीं चुना गया था। किसी और को भेजना था। वैसे धर्मेन्द्र त्रिपाठी बड़े सरल, सहज व्यक्ति है। वे अपने सामाजिक दायित्व को देखते हैं, लेकिन शास्त्र के रूप में मैं इसे गलत ठहराता हूं। 

‘बीजेपी के कई नेताओं से संपर्क में’
इधर जब कांग्रेस विधायक से वायरल तस्वीर में नौकरीपेशा नेता को स्वेच्छा से अनुदान देने को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने सबसे पहले कहा कि कई सारे बीजेपी नेता उनके संपर्क में हैं। उन्होंने कहा कि वो बीजेपी के 15 साल के कुशासन से मुक्ति चाहते हैं. और कांग्रेस की सरकार चाहते हैं। उन्होंने आगे कहा कि जहां तक ​​स्वैच्छिक अनुदान की बात है तो वो बीजेपी के महामंत्री ये तय कर रहे हैं. शायद वो ब्राह्मण समाज के लिए अनुदान पाने वाले थे पर जब उनसे शायद ही सवाल किया गया तो उन्होंने मजाकिया अंदाज में कहा कि वो तो समान अधिकार कि वो क्या हैं।

यह भी पढ़ें:

<p style="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफ़ाई करें;"<एक शीर्षक ="देखें: शादी में जा रही कार पर दांव का हमला, अल्टारस और इम्पैक्ट का वीडियो वायरल" href="https://www.abplive.com/states/chhattisgarh/villagers-beat-up-car-riders-going-to-wedding-in-ambikapur-video-viral-ann-2404009" लक्ष्य ="_खुद"देखें: शादी में जा रही कार पर दावों का हमला, सरताज और प्रभाव का वीडियो वायरल

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here