Home Feature रंगदारी वसूली व धोखाधड़ी के मामले में भरतपुर 15000 का इनामी बदमाश गिरफ्तार राजस्थान समाचार अन्न

रंगदारी वसूली व धोखाधड़ी के मामले में भरतपुर 15000 का इनामी बदमाश गिरफ्तार राजस्थान समाचार अन्न

0
रंगदारी वसूली व धोखाधड़ी के मामले में भरतपुर 15000 का इनामी बदमाश गिरफ्तार राजस्थान समाचार अन्न

[ad_1]

भरतपुर क्राइम न्यूज़: राजस्थान (राजस्थान) के भरतपुर (भरतपुर) की डीएसटी टीम ने सोमवार को सेक्सटॉर्शन, एक्सटॉर्शन और अवैध तरीके से ठगी करने वाले 15000 के इनामी बदमाश किए। इस बदमाश पर एडीजी क्राइम ने 5000 का इनाम घोषित किया था। ठगी के हालात पर ज्वैलर के थाना जवाहरलाल नेहरू सर्किल पर मामला आया था। ठगी के मामले में कई थानों में दर्ज हैं।

अपराध गिरफ्तार
DST टीम ठगी के रिकॉर्ड को खंगाल रही है। जानकारी के अनुसार, जुमरत ऊ जुम्मा भरतपुर के सीकरी थाना क्षेत्र के कुतकपुर गांव का रहने वाला है। ठगी का ये पंच कई दिनों से चल रहा था। इसके बाद एडिजी क्राइम ने ठगी के पंजों पर 15000 का इनाम घोषित कर दिया था। मुखबिर की सूचना पर डीएसटी टीम ने ठगी के घटना की अफवाह उड़ाते हुए ऊ जुम्मा को नगर कस्बे के गोल चक्कर के पास से घेराबंदी कर दबोच लिया।

पुलिस का क्या कहना है
पुलिस ने बताया कि, ठगी के मामले में झूमाझटकी से ज्यादा जुमा को गिरफ्तार किया गया है। इस इनामी ठग के खिलाफ पुलिस थाना जवाहरलाल सर्किल जिला जयपुर में धारा 419,420, 389, 411, 413,414, 120 बी के तहत मुकदमा दर्ज किया है। बता दें कि राजस्थान के भरतपुर जिले का मेवात क्षेत्र मिनी जामताड़ा के नाम से जाना जाता है। मेवात क्षेत्र में देश के 15 राज्यों की पुलिस दबिश देती है।

पुलिस यहां साइबर क्राइम में अपराधियों को पकड़ती है। भरतपुर पुलिस के हेड एसपी श्याम सिंह ने देश के अन्य राज्यों से लाखों की संख्या में फर्जी सिम कार्ड को बंद कर दिया है। इसलिए ही नहीं उन्होंने लाखों की संख्या में मोबाइल एक्सेस को आईएमआई नंबर की मदद से ब्लॉक किया है, ताकि शहर में साइबर क्राइम पर जाम लग सके।

महाराणा प्रताप जयंती: … इसलिए साल में दो बार मनाई जाती है महाराणा प्रताप की जयंती, दुश्मनों को देने के लिए भी रखते थे 104 किलो की तलवार

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here