Home Lifestyle किडनी खराब होने के कारण और लक्षण यहां जानें

किडनी खराब होने के कारण और लक्षण यहां जानें

0
किडनी खराब होने के कारण और लक्षण यहां जानें

[ad_1]

किडनी स्वास्थ्य: किडनी (Kidney) हमारे शरीर का एक अहम हिस्सा है, शरीर की गंदगी साफ करने का जिम्मा किडनी के ऊपर ही होता है. किडनी शरीर की गंदगी को फिल्टर करके शरीर से निकालती है ताकि हमारा शरीर स्वस्थ रह सके। लेकिन कई बार किडनी अस्वस्थ हो जाती है और ऐसे में शरीर कई सारी बीमारियों का शिकार हो जाता है। कई बार किडनी फेल (किडनी फेल) हो जाता है और शरीर से गंदगी नहीं निकलती है, जिससे शरीर कई लोगों में फंस जाता है। इसलिए शरीर को स्वस्थ रखना है तो किडनी की देखभाल जरूरी है। आज कैसे जानें कि किडनी फेल क्यों हुई है और इसके शुरुआती लक्षण अभिलेख जा सकते हैं।

इन कारणों से फेल होती है किडनी यहां हैं किडनी फेल होने के कारण

  • आपको बता दें कि शुगर ऐसी बीमारी है जिसका सीधा असर किडनी की सेहत पर पड़ता है। शरीर में ब्लड शुगर का स्तर बढ़ने पर भी किडनी की फेल होने के आसार बढ़ जाते हैं। दरअसल जब शरीर में शुगर ज्यादा होती है तो ये खून में मिल जाती है। ये शुगर किडनी के फिल्टरिंग सेल्स को डैमेज करती है और धीरे-धीरे किडनी कमजोर होने की वजह से दंपत्ति तक पहुंच जाती है। ऐसे में आपको अपने शुगर पर कंट्रोल रखने की जरूरत ज्यादा है।
  • यूरिनरी इंफेक्शन जिसे यूटीआई भी कहा जाता है, किडनी फेल होने का एक कारण कहा जाता है। कई बार मूत्र मार्ग का संक्रमण बढ़कर किडनी तक पहुंच जाता है और इससे किडनी की कोशिकाओं को डैमेज हो जाता है जिससे किडनी फेल हो जाती है।
  • हाई शुगर की तरह हाई ब्लड प्रेशर यानी हाई ब्लड प्रेशर भी किडनी फेल होने का कारण बन जाता है। ब्लड प्रेशर का सीधा असर ब्लड आर्टरीज पर पड़ता है जिससे किसी भी किडनी के रक्त संबंधी डैमेज होते हैं और किडनी फेल होने के जोखिम बढ़ जाते हैं। शरीर में हेपेटाइटिस वायरस के हमले के कारण भी किडनी फेल होने के खतरे बढ़ जाते हैं। हेपेटाइटिस होने से किडनी के अंदर फिल्टरेशन का काम करने वाले फिल्टर सूजन का शिकार हो जाते हैं जिससे किडनी फेल होने का खतरा बढ़ जाता है।

किडनी फेल होने के लक्षण किडनी फेल होने के लक्षण

किडनी फेल होने पर सबसे पहले शरीर को डिटॉक्सिफाई करने में परेशानी होने लगती है। ऐसे में पीठ में दर्द होना सबसे पहला लक्षण माना जाता है। पहचान में दिखता है। सुबह का समय जी मिचलाता है उल्टी उल्टी लगती है। इस दौरान भूख काफी कम हो जाती है और कुछ खाने पर उल्टी आने लगती है। इस दौरान कभी-कभी मूत्र से रक्त आने लगता है। यूरिन की फ्रीक्वेंसी भी विशिष्ट होती है। कभी यूरिन ज्यादा आता है और कभी कम आता है। यूरिन पास करते समय जलन और दर्द होना भी किडनी फेल होने के लक्षण हैं। बीपी का ऊंचा होना, पैरों में सूजन और जाना भी किडनी फेल होने के सामान्य लक्षण कहे जा सकते हैं।

यह भी पढ़ें

नीचे स्वास्थ्य उपकरण देखें-
अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की गणना करें

आयु कैलक्यूलेटर के माध्यम से आयु की गणना करें

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here