शराब का आपकी हड्डियों पर पड़ता है असर, जानिए रिस्क फैक्टर और ऑस्टियोपोरोसिस और अल्कोहल के बारे में

0
51
शराब का आपकी हड्डियों पर पड़ता है असर, जानिए रिस्क फैक्टर और ऑस्टियोपोरोसिस और अल्कोहल के बारे में
Spread the love


शराब एक शौक है। कई लोग ज्यादा कमाते हैं, कई लोग कम. शराब के कई नुकसान आप पढ़े होंगे इस कहानी में हम हड्डियों पर होने वाले इसका असर पर बात करेंगे। शरीर का पूरा ढांचा हड्डियों पर टिका होता है। ये हड्डियां किसी मकान के कंक्रीट पिलर की तरह हैं। अगर हड्डियां खराब होती हैं तो जाहिर है मकान की तरह शरीर का दम भी टूटता है। शराब के सेवन से फैट और हड्डियों को नुकसान पहुंचता है।

नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन की एक रिपोर्ट के मुताबिक ज्यादा शराब पीने से आपका कैल्शियम का स्तर कम हो जाता है। फैट आपके शरीर में पहुंचकर हार्मोन को आच्छादित कर देता है, जो हड्डियों को कमजोर कर देता है और नई हड्डियां बनने से रोकता है। आपकी पतली और पतली हो जाती हैं। इस स्थिति को कहा जाता है। फैटी मांसपेशियों में रक्त का प्रवाह भी सीमित होता है और उन्हें प्रोटीन के रास्ते में ले जाया जाता है। इससे समय के साथ आपकी मांसपेशियां कम होंगी और उनकी क्षमता कम होगी।

गंभीर विटामिन और प्रभावित होते हैं

फैटी बॉडी कैल्शियम, मैग्नीशियम, विटामिन डी और अन्य महत्वपूर्ण पोषक तत्वों को भी निकाल सकते हैं जो हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए जरूरी हैं। विटामिन-डी और कैल्शियम हड्डियों के लिए बेहद जरूरी हैं। शरीर में पाए जाने वाले कैल्शियम का 99% हिस्सा हड्डियों में ही होता है। इसलिए, हड्डियों को जोड़ने के लिए जरूरी मात्रा में कैल्शियम खाना चाहिए। एक व्यक्ति को हर रोज औसत 1,000 से 1,200 मिलीग्राम कैल्शियम लेना जरूरी है। हड्डियों को मजबूत होना चाहिए कैल्शियम के साथ ही विटामिन डी, प्रोटीन, विटामिन के, मैग्नीशियम, पोटैशियम, विटामिन सी और अन्य पोषक तत्व भी जरूरी हैं।

अनुक्रिया क्या है?

शराब के साथ फाइबर में जाता है और इससे हड्डियों को नुकसान होता है। हमारे हड्डियों के अंदर छोटे-दादा स्थान होते हैं। स्टा होने पर यह ऐसे स्थानों का आकार बढ़ा देता है। धीरे-धीरे एक अवस्था आती है जब आपको हड्डियों में दर्द होने लगता है। ज्यादा देर तक बैठने के बाद उठने पर घुटने दुखते हैं। जरा सा पैर मुड़ने या झटका लगने पर फ्रैक्चर होने की संभावना बढ़ जाती है। उस स्थिति में समझ की वजह से आप शायद दाद बीमारी की चपेट में आ रहे हैं। यानी आपके शरीर का कैल्शियम, मैग्नीशियम, विटामिन डी को खत्म करने में लगता है। इस दुनिया में लाखों लोग इस परेशानी से पीड़ित हैं और बहुत से लो बोन मास के कारण उच्च जोखिम पर हैं।

लत और शराब के संबंध

शराब की वजह से सर्कस हो जाता है। हमारे हड्डियों को स्वस्थ रहने के लिए पर्याप्त मात्रा में कैल्शियम की आवश्यकता होती है। जब कोई व्यक्ति शराब पीता है, तो पेट में कैल्शियम की पर्याप्त मात्रा को अवशोषित नहीं करता है। यहां तक ​​कि इससे व्यक्ति के शरीर की विटामिन डी उत्पादन की क्षमता भी प्रभावित हो जाती है। जो व्यक्ति ज्यादा पीने वाले होते हैं, उनकी हड्डियों में कमजोरी होने की संभावना ज्यादा होती है। इसी के साथ अगर कोई व्यक्ति शराब छोड़ना छोड़ देता है तो हड्डियां ठीक होने लगती हैं।

हड्डियों पर फंगस के दुष्प्रभाव

1. टेस्टोस्टेरोन स्तर घटने लगता है
2. हड्डियां कमजोर होने लगती हैं
3. कॉर्टिसॉल स्तर बढ़ने लगता है
4. हड्डी की अटका हुआ है
5. कहीं से गिरने या फिसलने की संभावना बढ़ जाती है

क्या करें ताकि हड्डियां कमजोर न हों

1. शराब पीना बंद करें
2. अपनी डाइट पर ध्यान दें
3. नियमित व्यायाम करें
4. धूम्रपान न करें

शरीर पर शराब के अन्य प्रभाव

1. खतरे का खतरा
2. यौन जीवन प्रभावित होता है, बीमारियों का खतरा बढ़ रहा है। सृजन क्षमता घटती है
3. प्रतिरक्षा प्रणाली कमजोर होती है
4. सेंट्रल नर्व सिस्टम प्रभावित होता है
5. पेट खराब रहता है, खाना हजम नहीं होता है
6. कैंसर की संभावना
7. मांसपेशियों में कमजोरी होने लगती हैं

नीचे स्वास्थ्य उपकरण देखें-
अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की गणना करें

आयु कैलक्यूलेटर के माध्यम से आयु की गणना करें



Source link

Umesh Solanki

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here