बिहार सरकार चाहती थी कि बाबा बागेश्वर का कार्यक्रम बिफल हो जाए, इसलिए पहले ही बवंडर मचाया और बाद में सुरक्षा भी नहीं दी।

0
43
बिहार सरकार चाहती थी कि बाबा बागेश्वर का कार्यक्रम बिफल हो जाए, इसलिए पहले ही बवंडर मचाया और बाद में सुरक्षा भी नहीं दी।
Spread the love


कैमूर: कैमूर जिले के भभुआ शहर पहुंचे केंद्रीय राज्य मंत्री अश्विनी चौबे ने बाबा बागेश्वर धाम के कार्यक्रम के लिए प्रशासन की व्यवस्था को लेकर बिहार सरकार पर जोरदार हमला बोला। उन्होंने बिहार सरकार पर आरोप लगाया है कि वहां से ही बाबा बागेश्वर धाम के सभा को लेकर हल्ला मचाए थे। उनके आने के बाद किसी भी तरह की सुविधा नहीं की गई। विज्ञापन प्राधिकरण भी अच्छा नहीं दिखा रहा है।

सनातन धर्मालंबियों को रोकने का प्रयास किया गया। उन्होंने दावा किया कि ऐसी आतंकी घटना से आतंकवाद खत्म हो जाएगा। अश्विनी चौबे ने आरोप लगाया कि देश के अंदर राष्ट्रीयता का भाव जाग्रत होगा, लेकिन इन बुजदिली लोगों की घटना को देखकर रोंगटे खड़े हो गए हैं। उन्हें दंडवत करने के लिए चौकियां मिलती हैं। अश्विनी चौबे ने कहा ”संत लोगों को कहते हैं जेल में डालेंगे दम है तो डाल दो, 50 लाख से ज्यादा लोग हैं। कितने लोगों के लिए जेल बनवागे। सरकार समाप्त हो जाएगी। लाइट में मत लो.”

मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने कहा कि प्रशासन द्वारा कार्यक्रम को पूरी तरह से विफल करने की योजना थी। उनके दांत बन्ध हो गए जब स्वामी धीरे-धीरे शास्त्री पुतेना आए तो लाखों लोगों में भीड़ उमड़ी थी। उनके इस कार्यक्रम में बिहार के कोने-कोने से लोग आए हैं। पहचान से भी लोग यहां पहुंचे हैं। उनकी इस कार्यक्रम को लेकर सरकार द्वारा ट्रैफिक की कोई व्यवस्था नहीं की गई थी। हमको अपने आप से पूर्व दानापुर आने में 2 घंटे की देरी हो गई। दूसरा मार्ग पकड़कर मुझे आना पड़ा.

अश्विनी चौबे ने आरोप लगाया कि बिहार सरकार चाहती थी कि कार्यक्रम फेल हो जाए। बिहार सरकार ने सबसे पहले उसी कार्यक्रम को लेकर बवंडर मचा रखा था। अश्विनी चौबे ने कहा- उस समय भी कहा था कि किस मां के लाल में दम है कि सनातन धर्मावलंबियों को रोकेगा। सनातन धर्म संस्कृति के आगे ही देश आगे फलेगा फूलेगा।’ आतंक को भी हम रोकेंगे और देश के अंदर जो राष्ट्रीयता का भाव है वह जागृत होगा लेकिन यह बुजदिल लोगों को समझ में नहीं आता है देर से समझ में आता है।

अश्विनी चौबे ने कहा कि उनकी हवाएं उड़ जाएंगी जो रोकने के लिए नहीं किए थे। उन्हें दोष देने के लिए उनके चौकियां मिलती हैं। बागेश्वर बाबा लोगों के हैं लेकिन यह लोग सिर्फ तुष्टीकरण की राजनीति अपनाते हैं अगर भारत के सभी संत कहीं घूम रहे हैं तो उन्हें जेल में डाल देंगे अपनी टीम के लोग यही करते हैं। अगर हिम्मत है तो डाल कर देख लो उन्हें 50 लाख से लेकर करोड़ों लोग जेल भेजेंगे तो हवा में चलेंगे और सरकार ही खत्म हो जाएगी।

इसे भी पढ़ें: बागेश्वर धाम : धीरेचंद्र शास्त्री के नाम पर छिड़े विवाद में कूदे प्रशांत किशोर, भाजपा पर कसा तंज, भगवान राम का लिया नाम



Source link

Umesh Solanki

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here