बेहतरीन लाभ पाने के लिए ग्रीन टी के साथ इन गलतियों से बचना चाहिए

[ad_1]

हरी चाय: ‘ग्रीन टी’ यह…. एक ऐसी चाय है, जो एक से कई अद्भुत फायदों से भरपूर है। न केवल भारत में बल्कि वैश्विक रूप से ग्रीन टी पीने वालों की संख्या बहुत अधिक है। इस चाय को पीने से मुक्तता तो मजबूत होती है, साथ ही इसके वजन में भी कोई कमी नहीं होती है। कैंसर, कोलेस्ट्रॉल, ब्लड प्रेशर और दिल की बीमारी से पीड़ित रोगियों के लिए भी ग्रीन टी काफी फायदेमंद होता है। ग्रीन टी वैसे तो कई फायदों से भरपूर होती है। लेकिन अगर आप इसका सेवन गलत समय पर करेंगे तो इससे आपको अधिक लाभ नहीं मिलेगा, जितना मिल सकता है।

ग्रीन टी से ज्यादा से ज्यादा फायदे हासिल करने के लिए यह बहुत जरूरी है कि आप इसे पीने के सही नींद के बारे में अच्छे से आसान हो सकते हैं। आइए जानते हैं ग्रीन टी से जुड़ी उन जिम्मेदारियों के बारे में जिन्हें लोग बार-बार देखते हैं।

हरा टी खाने का समय न करें 7 गलतियां

1. खाली पेट

अगर आप अपने दिन की शुरुआत ग्रीन टी से करते हैं तो आज से ही यह काम करना बंद कर दें। क्योंकि ग्रीन टी में टैनिन होता है, जो पेट में एसिड को बढ़ाने का काम करता है। खाली पेट ग्रीन टी पीने से पेट में बेचैनी और मतली की समस्या पैदा हो सकती है। पाचन से जुड़ी किसी भी समस्या से बचने के लिए ग्रीन टी पीने से पहले कुछ हेल्दी जरूर मजबूत करें।

2. ज़रूरत से ज़्यादा रोज़गार

माना जाता है कि ग्रीन टी पीने से सेहत को कई फायदे मिलते हैं। लेकिन किसी भी चीज की अति बहुत बुरी नजर आती है। अगर आप जरूरत से ज्यादा ग्रीन टी लेंगे तो इससे चिंता, अनिद्रा और पाचन संबंधी समस्याएं हो सकती हैं। रोज़ाना 2-3 से ज्यादा कप ग्रीन टी न पिएं।

3. रात के खाने में

चूंकि ग्रीन में कैफीन भी होता है, इसलिए रात के समय इसे पीने से नींद पर बुरा असर पड़ सकता है। यही वजह है कि सोने से पहले कभी भी इसका सेवन नहीं करना चाहिए।

4. खाने के तुरंत बाद

खाना खाने के बाद ग्रीन टी पीने की गलती भी नहीं करनी चाहिए। क्योंकि इससे भोजन से मिलने वाले पोषक तत्वों को प्राप्त करने में रुकावट पैदा होती है। ऐसा करने से आयरन के गर्भपात में रुकावट आती है, जिसकी वजह से बोट्स हो सकते हैं। अगर आप ग्रीन टी प्लंज चाहते हैं तो खाने के 1-2 घंटे बाद ही ग्रीन टी पिएं।

5. दवा के साथ फ़ोरम

कुछ दवाओं के साथ ग्रीन टी इंटरेक्शन करता है, जिसमें एंटीडिप्रेसेंट, ब्लड थिनर और ब्लड प्रेशर की दवाएं शामिल हैं। अगर आप ऐसी किसी दवा को खा रहे हैं तो ग्रीन टी का सेवन करने से बचें या ऐसा करने से पहले डॉक्टर से एक बार सलाह जरूर लें।

6. टी बैग्स का दोबारा इस्तेमाल करें

ग्रीन टी बैग्स का दोबारा इस्तेमाल करने से आपको हमेशा बचना चाहिए। क्योंकि टी बैग्स का दोबारा इस्तेमाल करने से चाय का स्वाद और स्वाद नहीं बना रहता है। कुल मिलकर तो ऐसी चाय अनहेल्दी हो जाती है। इससे आपको भरपूर नहीं मिलेगा। हर बार ग्रीन टी का समय हमेशा फ्रेश क्रेज या नए टी बैग का ही इस्तेमाल करें।

अस्वीकरण: इस लेख में बताए गए नुस्खे, तरीके और सलाह पर अमल करने से पहले डॉक्टर या संबंधित विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

ये भी पढ़ें: सैटेलाइट या डिनर करने के बाद भूलकर भी न करें ये 5 काम, वरना ‘रोगी’ बन जाएगा आपका शरीर

नीचे स्वास्थ्य उपकरण देखें-
अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की गणना करें

आयु कैलक्यूलेटर के माध्यम से आयु की गणना करें

[ad_2]

Source link

Umesh Solanki

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *