राजस्थान समाचार जयपुर में सचिन पायलट के करीबी चाकसू कांग्रेस विधायक वेद प्रकाश सोलंकी एएनएन के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई

0
43
राजस्थान समाचार जयपुर में सचिन पायलट के करीबी चाकसू कांग्रेस विधायक वेद प्रकाश सोलंकी एएनएन के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई
Spread the love


राजस्थान राजनीति: राजस्थान विधानसभा चुनाव (राजस्थान विधानसभा चुनाव) से पहले पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट (सचिन पायलट) और सीएम गहलोत (अशोक गहलोत) खेमे में सब खुल कर सामने आने वाले हैं। सचिन पायलट के करीबी नेता और चाकसू विधायक सोलंकी (वेद प्रकाश सोलंकी) के खिलाफ वेद प्रकाश दर्ज हुआ है। दर्ज होने के बाद विधायक वेद प्रकाश सोलंकी ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि यह सरकार और कुछ अधिकारियों की मिलीभगत का परिणाम है। उनका यह भी आरोप है कि गहलोत उन्हें सरकार के विधायक नहीं मानते हैं, जबकि हम कांग्रेस (कांग्रेस) के विधायक हैं।

कांग्रेस विधायक वेद प्रकाश सोलंकी ये भी कहते हैं कि उनके क्षेत्र में विकास का काम काफी हो रहा है। उन्होंने कहा कि चार साल पहले हमने जो दर्ज प्रकरण दर्ज किया था उस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई है। जबकि ये एक झूठा मामला हमारे ऊपर डाला गया है। वेद प्रकाश सोलंकी ने पायलट की आकांक्षा करते हुए कहा कि सचिन पायलट जामई नेता हैं। वह जहां जाता है वहां हजारों की भीड़ अपने आ जाती है। बिना किसी पद पर बने भी उनकी सुबह-शाम भीड़ लगी रहती है। सचिन पायलट के चेहरे पर ही वे चुनाव जीत गए थे। उनका कहना है कि जनता पायलट के साथ खड़ी है। हम लोग तन, मन और धन से पायलट के साथ हैं।

पूरे रास्ते जमीन पर गिरे पड़े हैं- सोलंकी

विधायक सोलंकी का कहना है कि जिस जमीन के मामले में हमारे ऊपर स्थिति दर्ज की गई है, उसके पीछे एक बड़ा राजनीतिक षड्यंत्र है। उन्होंने दर्ज किए गए आरोपों में दावा किया कि इस मामले में जो महिला मोहरा बनी हुई है, वह अपने खिलाड़ी के पीछे है। हमने इसकी नींव के लिए पूरा पैसा दिया है। सच्चाई कुछ और है लेकिन कुछ दिखाया जा रहा है। यह सब ठीक नहीं है.

सरकार समर्थक समर्थक के साथ अच्छा व्यवहार नहीं करते-सॉलंकी

सोलंकी ने कहा कि जनता से अगर पायलट ये बोल देते हैं कि यहां एक नहीं पांच लाख लोगों को आता है, तो पांच लाख लोग आते हैं। एक आवाज लगा दे तो भीड़ उतरती है। हम लोग अब आंदोलन में जाएंगे. जनता इस बार कोई कमी नहीं छोड़ना चाहती है। उन्होंने कहा कि हम सभी पायलट के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम करते हैं। सरकार पर आरोप लगाते हुए दावा किया गया है कि ये सरकार के नेता समर्थक के साथ अच्छा व्यवहार नहीं कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें: राजस्थान: बीजेपी सांसद अर्जुन लाल मीणा का हैरानी भरा बयान, कहा- ‘उदयपुर में पार्टी की जीतना मुश्किल’



Source link

Umesh Solanki

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here