तोरी की सब्जी के हैं कई स्वास्थ्य लाभ, जानिए कैसे बनाएं तोरी पराठा रेसिपी

0
108
तोरी की सब्जी के हैं कई स्वास्थ्य लाभ, जानिए कैसे बनाएं तोरी पराठा रेसिपी
Spread the love


तोरी पराठा पकाने की विधि: बेहतर शारीरिक और मानसिक विकास के लिए शरीर को आवश्यक पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है। जब शरीर में इन पोषक तत्वों की कमी हो जाती है तो कई बीमारियां लगने लगती हैं। पोषक तत्व सबसे बड़े और अच्छे हरे रंग होते हैं, जैसे मेथी, सब्जी, पालक, कड़ी आदि जैसे कुछ शाकाहारी। इन प्रजातियों से आप भरपूर पोषण प्राप्त कर सकते हैं। वैसे तो आजकल ब्रोकली, अजवायन जैसी लड़कियों ने अच्छी खासी लोकप्रियता हासिल की है। लेकिन क्या आपने कभी जुकिनी के बारे में सुना है? अगर नहीं तो आज हम आपको इस स्पेशल वेजीटेज के बारे में सब्सक्राइब करते हैं, जो कई हेल्थ बेनिफिट्स से भरपूर है।

जुकिनी स्वास्थ्य के लिए लाभ क्यों?

जुकिनी समर सब्जी है, जिसका संबंध ककड़ी और कद्दू जैसी प्रजातियों से है। इस सब्जी का स्वामित्व यह है कि ये कई महत्वपूर्ण विटामिन और विचित्रता से भरपूर होते हैं, जिससे शरीर की कई परेशानियां दूर हो सकती हैं। जुकिनी में कैलोरी की मात्रा कम और फाइबर की मात्रा अधिक होती है। यही कारण है कि ये कोलेस्ट्रॉल कम करने में सिद्ध हो सकते हैं।

बस इतना ही नहीं, इस सब्जी में पोटैशियम, आयरन, मैग्नीशियम, विटामिन ए और विटामिन सी भी अच्छी खासी मात्रा में पाए जाते हैं। विटामिन ए की मौजूदगी की वजह से इस सब्जी को आंखों की सेहत के लिए बेहतर माना जाता है। इसमें 95 प्रतिशत पानी होता है, जो शरीर को लॉजिंग का काम करता है। साथ ही साथ फाइबर की मौजूदगी भी एक कारण है जो इस वनस्पति को पर्यावरण के लिए लाभ बनाता है।

जुकिनी का पराठा कैसे बनाएं?

आप अपने खाने में इस सब्जी को अलग-अलग तरह से शामिल कर सकते हैं। आप जुकिनी का पराठा भी बना सकते हैं, जिसकी रेसिपी कुछ इस प्रकार है:-

जुकिनी का पराठा बनाने के लिए सबसे पहले एक जुकिनी और एक गजर को अच्छे से कद्दूकस कर लें। फिर कद्दूकस की हुई जुकिनी पर लोक सा नमक डाल दें और कुछ कारणों के लिए इसे अलग रखें। कुछ समय बाद जुकिनी को निचोड़ लें और सारा पानी निकाल कर निकाल दें। फिर एक बड़ा बाउल लें और इसमें आधा कप बेसन और एक कप आटा लें। इसके बाद इसमें कटी हरी मिर्च, अदरक का पेस्ट, जीरा पाउडर, चिली फ्लेक्स, जुकिनी, गाजर और नमक के स्वाद के अनुसार डाला जाता है। इन सभी चीजों को अच्छी तरह से मिलाकर गंद लें और कुछ देर के लिए ठीक रखें। अब इसके रहने वाले बेलें और गरम तवे पर डालें और फिर घिसाव अच्छी तरह से सेंक लें। अब आपका गरमा गरम जुकिनी का पराठा तैयार है।

अस्वीकरण: इस लेख में बताए गए नुस्खे, तरीके और सलाह पर अमल करने से पहले डॉक्टर या संबंधित विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

ये भी पढ़ें: मूषक के लिए किसी औषधि से कम नहीं है ये सब्जी, एक संकेत में कम हो सकता है ‘शुगर’



Source link

Umesh Solanki

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here