Home Feature राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत के सलाहकार संयम लोढ़ा ने सचिन पायलट एएनएन पर गंभीर आरोप लगाया राजस्थान: सीएम अशोक गहलोत की सलाह ने सचिन पायलट पर कसा तंज,बोली

राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत के सलाहकार संयम लोढ़ा ने सचिन पायलट एएनएन पर गंभीर आरोप लगाया राजस्थान: सीएम अशोक गहलोत की सलाह ने सचिन पायलट पर कसा तंज,बोली

0
राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत के सलाहकार संयम लोढ़ा ने सचिन पायलट एएनएन पर गंभीर आरोप लगाया  राजस्थान: सीएम अशोक गहलोत की सलाह ने सचिन पायलट पर कसा तंज,बोली

[ad_1]

राजस्थान कांग्रेस समाचार: राजस्थान विधानसभा चुनाव (Rajasthan Assembly Election) से पहले प्रदेश कांग्रेस (Congress) में सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) और सचिन पायलट (सचिन पायलट) गुट में चल रहा कलह फ्रैंक सामने आने लगा है। दोनों ही गुटों के नेता एक दूसरे पर खुले मंच से आरोप लगाने से बज नहीं रहे हैं। सीएम अशोक गहलोत के नियामक संयम लोढा (संयम लोढा) ने सचिन पायलट पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं दावा करते हुए कहा कि सचिन पायलट छोटी-छोटी बातों पर रूठ जाते हैं, वह नाखून कटवा कर शहीद बनने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन जनता सब कुछ जताती है।

सीएम के सलाहकार संयम लोढ़ा ने पायलट तंज कासते हुए कहा कि विधानसभा में एक पीतल का गेट मौजूद है, जहां सिर्फ सर्वोच्च पद पर बैठे व्यक्ति की ही गाड़ी जा सकती है। सचिन पायलट के डिप्टी सीएम बनने के बाद जब उनकी गाड़ी वहां तक ​​नहीं पहुंची तो वह रूठ गए। वहीं पर रहने की बात आई तो जाड़ा पकड़ कर बैठ गए कि कार्यभार के कार्यालय में ही मेरा कमरा होगा, जो हो नहीं सकता था। जब उन्हें दूसरी जगह रखा गया तो वह फिर रुठ गए।

सचिन पायलट लूट रहे हैं सरकारी बंगले का मजा- संयम लोढ़ा

पायलट पर जबानी हमला बोलते हुए मुख्यमंत्री के सलाहकार संयम लोढ़ा ने कहा कि डिप्टी सीएम के रिश्तेदार सचिन पायलट को एक बंगला मिला था, जो डिप्टी सीएम का पद खाली करने के बाद उन्हें एक महीने खाली कर दिया था। लेकिन उन्होंने ऊपर से फोन करवा कर उस आवास को सामान्य प्रशासन विभाग से निकलवा कर विधानसभा पूल में डालवा दिया और आज तक सरकारी आवास का सुख भोग रहे हैं। संयम लोढ़ा ने कहा कि डिप्टी सीएम के पद से जाने के बाद विधानसभा में उनकी सीटों को बगल में दे दिया गया, ये बात उनकी नागवार गुजरी। सचिन पायलट ने दिल्ली टेलीफोन करवा कर सीनियर नहीं होने के बावजूद पहली पंक्ति में सीट पर कब्जा कर लिया।

पायलट से पेपर लीक मामले में नहीं मिला सहयोग- संयम लोढ़ा

पेपर लीक मामले का जिक्र करते हुए संयम लोढ़ा कहते हैं कि उनके साथी जिस भाजपा कि सरकार से घोटाले की बात कर रहे हैं, उन मुद्दों को पूरे पांच साल से मैं उठा रहा था। पायलट या उनकी टीम का एक भी आदमी इस मुद्दे पर खड़ा नहीं हुआ। पेपर लीक मामले में जांच के दौरान जो कमियां रही थीं, गृह विभाग की बहस में तमाम मुद्दों को प्रभावी तरीके से उठाया गया। लेकिन कभी उन्होंने हमारा साथ नहीं दिया।

‘पार्टी में अनुशासन और मर्यादा से रहें’

संयम लोढ़ा ने पूर्व उप-सचिन पायलट पर तंज कसते हुए कहा कि नाखून कटवा कर आप शहीद बनना चाहते हैं। उन्होंने सचिन पायलट पर सवाल करते हुए कहा कि चुनावी साल में आपको नौकरी या पिछले अंकों के घोटाले की याद क्यों आ रही है? अपने आप को हंसी का पात्र नहीं बनाएं, जिस पार्टी में हैं उस में अनुशासन और मर्यादा से बने रहें।

ये भी पढ़ें: राजस्थान: कोटा में होगा आठ देशों का लजीज खाना, तैयार हो रही है दुनिया की नौ प्रसिद्ध इमारतें

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here