शनिदेव परेशान कर रहे हैं काले कुत्ते को चारा खिलाएं ज्योतिष काले कुत्ते का महत्त्व शनि राहु और केतु शांत

0
32
शनिदेव परेशान कर रहे हैं काले कुत्ते को चारा खिलाएं ज्योतिष काले कुत्ते का महत्त्व शनि राहु और केतु शांत
Spread the love


शनि देव : देश-दुनिया में तकलीफ कुछ भी हो, किसी को भी हो उसके पीछे आपके ग्रह होते हैं। हर कोई चाहे वो जानवर। योजनाओं का प्रभु इंसान हो या जानवर सभी पर पड़ता है। हर जानवर या इंसान योजनाओं के प्रभाव में रहता है। इसमें आज हम बात करेंगे कुत्तों की, कुत्ते शनि, राहु, केतु योजनाओं को शांत रखने के लिए सबसे उपयुक्त माना गया है।

ऐसा माना जाता है कि कुत्ते के पालने से शनि, राहु, केतु ग्रह शांत होते हैं। आपका कुत्ता आपके अंदर नेगेटिव एनर्जी लाता है। इसीलिए घर में कुत्ते को बेहद दृश्य बताया गया है। ज्योतिष शास्त्रों में ऐसा माना जाता है कि अगर आप अपने घर में काला कुत्ता पालते हैं तो इससे आपके सभी ग्रह शांत हो जाते हैं। आइए जानते हैं घर में अगर आप कुत्ता पालें तो किन बातों का खास ध्यान रखें।

कुत्ते कभी मारे नहीं गए
यह बात बिल्कुल सही है कि कुत्ते को कभी भी नीचे नहीं गिरना चाहिए क्योंकि कुत्ते की सेवा करने से शनि देव प्रसन्न होते हैं, वहीं अगर आप कुत्ते को मारेंगे तो शनि देव रुष्ट हो सकते हैं।

कुत्तों को खाना खाते हैं
ऐसा माना जाता है कि कुत्तों को सरसों के तेल की चुपड़ी रोटी खिलानी चाहिए। कुत्ते की रोटी से शनि दोष दूर हो जाता है और बड़े संकट बन जाते हैं।

कुत्तों की सेवा करें
कुत्ते की सेवा की जानी चाहिए, इसके लिए आप घर पर कुत्ते का पालन कर सकते हैं, अगर आप कुत्ते को नहीं पाल सकते हैं तो कुत्ते की सेवा कर सकते हैं, उनका खाना खाया जा सकता है और पानी पिलाया जा सकता है।

घर में कुत्ते के पालने के फायदे
घर में कुत्ते के पालन से शनि और केतु ग्रह शांत होता है। ऐसा माना जाता है कि कुत्ता आपकी नाकारात्मक ऊर्जा का नाश करता है। अगर आप पर किसी की बुरी नजर का असर होता है तो उसे भी कुत्ता खत्म कर देता है। काले कुत्तों पर शनि और केतु योजनाओं का प्रभाव रहता है।

जैसे आप गाय की सेवा करते हैं और गाय को रोटी या करित खिलाते हैं उसी प्रकार कुत्तों की भी सेवा करनी चाहिए इससे पुण्य प्राप्त होता है। किसी भी व्यक्ति या जानवर की मदद करने से शनि प्रसन्न होते हैं और हमेशा अपनी कृपा बनाए रखते हैं।

वट सावित्री व्रत 2023: वट सावित्री व्रत इन चीजों के बिना अधूरा है, जानें संपूर्ण सामग्री

अस्वीकरण: यहां बताई गई जानकारी सिर्फ संदेशों और जानकारियों पर आधारित है। यहां यह बताना जरूरी है कि ABPLive.com किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पुष्टि नहीं करता है। किसी भी विशेषज्ञ की जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित सलाह लें।



Source link

Umesh Solanki

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here