Health Tips दही या छाछ जो गर्मियों में बेहतर है हिंदी में

0
53
Health Tips दही या छाछ जो गर्मियों में बेहतर है हिंदी में
Spread the love


दही बनाम छाछ : गर्मी का मौसम चल रहा है। दही और छाछ हर किसी को पसंद होता है। अक्सर खाने के साथ या बाद में लोग ठंड छाछ या दही का सेवन करते हैं। दोनों से शरीर को ठंडक मिलती है। हालांकि, दही से ही बनने वाला छाछ गर्मी में आपको कूलिंग में ज्यादा हेल्प करता है। आयुर्वेद में भी बताया गया है कि छाछ पचने में काफी लाजवाब होता है। जबकि दही भारी होता है। शरीर पर दही (Curd Benefits) का गर्म प्रभाव भी पड़ता है। लेकिन गर्मी में दोनों का खूब इस्तेमाल होता है। अगर आप नहीं जानते कि गर्मी में आपके लिए कौन से अधिक अच्छे और लाभ (दही बनाम छाछ) हैं तो जलजमाव को जानें…

दही या छाछ गर्मी में सबसे अच्छा कौन

1. दही और छाछ प्रोबायोटिक्स हैं, जो आंत में गुड बैक्टीरिया को जन्म देने का काम करते हैं। हालांकि, जब बात डाइसाइजेशन की आती है तो छाछ ज्यादा बेहतर और काम बन जाती है। छाछ में विटामिन और खनिज अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं। चिलचिलाती गर्मी में भी ये शरीर को ठंडा रखते हैं। इसे पीने से बॉडी का टेंपरेचर सही बना रहता है। छाछ पाचन को भी बेहतर बनाता है। छाछ में जीरा पाउडर, नमक, जिंजर और ही रेशा होता है।

2. ऐसे लोग जो दिन में पाचन अग्नि तेज और सही होते हैं उन्हें दही खाने की सलाह दी जाती है। दही खाने से वजन बढ़ रहा है। इसलिए ऐसे लोगों को ज्यादा पानी और कम दही खाने को कहा जाता है।

3. वैसे आर्युवेद में दही की तासीर गर्म बताई जाती है। छाछ भी दही से ही बनता है और इसके बनने की प्रक्रिया अलग होती है। अपने फॉर्मूलेशन की वजह से यह ठंडा होता है। गर्मी के दिनों में दही कम और मट्ठा यानी छाछ कायरता। ख़ास छाछ और भी ज़्यादा टेस्टी और हेल्दी होता है। इसलिए अब कंफ्यूज होने की बजाय सीजन के होश से दही और छांछ का सेवन कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें

नीचे स्वास्थ्य उपकरण देखें-
अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की गणना करें

आयु कैलक्यूलेटर के माध्यम से आयु की गणना करें



Source link

Umesh Solanki

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here