Home Feature एनसीआर क्षेत्र के पेट्रोल पंप एएनएन पर 2000 के नोटों के लिए नई समस्या उत्पन्न हो गई है

एनसीआर क्षेत्र के पेट्रोल पंप एएनएन पर 2000 के नोटों के लिए नई समस्या उत्पन्न हो गई है

0
एनसीआर क्षेत्र के पेट्रोल पंप एएनएन पर 2000 के नोटों के लिए नई समस्या उत्पन्न हो गई है

[ad_1]

2000 रुपये की मुद्रा: अनुपालन की गाइडलाइन के बाद अब 2000 के नोटों की सरक्यूएशन बंद कर दी गई है, जिसके बाद 23 मई से 30 सितंबर तक इन नोटों को आरबीआई से जुड़े सभी राज्यों में रिटर्न और परिवर्तन किया जा सकेगा। लेकिन इसी बीच कई ऐसी जगहों पर दुकानों पर वह पेट्रोल पंप कर्मचारियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है जब ग्राहकों द्वारा 100 -200 रुपए की खरीदारी के बदले 2000 का नोट दिया जा रहा है जिससे बाद में दुकानदारों को पैसे देने में काफी मुश्किल हो रही है है।

एनसीआर के कई पेट्रोल पंपों के कर्मचारी परेशान हैं

दिल्ली एनसीआर स्थित नोएडा 12 के कई पेट्रोल पंपों के कर्मचारी अब 2000 के नोट को लेकर काफी परेशान दिखाई दे रहे हैं। पेट्रोल डीजल के लिए पेट्रोल पंपों पर आने वाले वाहन चालकों द्वारा 100- 200 के पेट्रोल के लिए 2000 का नोट दिया जा रहा है जिससे अधिक लोगों को देने के लिए पेट्रोल पंपों के कर्मचारियों के पास काम करने की कमी हो रही है। और यह केवल एक पेट्रोल पंपों पर नोएडा नहीं बल्कि ज्यादातर पेट्रोल पंपों पर ऐसी स्थिति हो रही है।

बातचीत के दौरान नोएडा 12 के एक पेट्रोल पंप के कर्मचारियों ने बताया कि जैसे लोगों को यह पता चला कि 2000 के नोटों की सरकुलेशन बंद कर दी गई है अब 2000 के नोट देने वालों की संख्या बढ़ गई है, इसलिए हमारे लिए भी यह काफी चुनौती है है कि केवल 100 -200 के पेट्रोल के बदले हम उन्हें शेष रहने पर लौटा देते हैं।

दिल्ली: कांग्रेस नेता अजय माकन बोले- ‘केजरीवाल के समर्थन का मतलब है नेहरू, पटेल, आंबेडकर के खिलाफ…’

अब 500 तक के पेट्रोल के लिए ही 2000 का नोट

वहीं अब आगे बढ़ते हुए ऐसे मामलों को देखते हुए नोएडा के कई पेट्रोल पंपों पर नोटिस दिया जाता है कि 500 ​​तक के पेट्रोल और डीजल लेने के लिए ही 2000 के नोट पर जाएं। इसके अलावा 500 से कम के पेट्रोल लेने पर 2000 का नोट स्वीकार नहीं होगा। वहीं मंगलवार से 2000 के नोट को जमा करने और बदलने के लिए सुविधा सितंबर से शुरू कर दी गई है जो 30 तारीख तक ले ली गई है।

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here