Home Lifestyle मुंह के कैंसर के लक्षण कारण उपचार, बहुत देर होने से पहले जान लें कि इस बीमारी का कैसे पता लगाया जा सकता है

मुंह के कैंसर के लक्षण कारण उपचार, बहुत देर होने से पहले जान लें कि इस बीमारी का कैसे पता लगाया जा सकता है

0
मुंह के कैंसर के लक्षण कारण उपचार, बहुत देर होने से पहले जान लें कि इस बीमारी का कैसे पता लगाया जा सकता है

[ad_1]

मुंह के कैंसर के लक्षण: पिछले कुछ दशकों में मुंह के कैंसर के मरीजों में तेजी से वृद्धि देखी गई है। लोगों द्वारा जा रही किसी भी मामले में नज़र की एक बड़ी वजह है। अत्यधिक धूम्रपान और शराब का सेवन करने की वजह से जो बीमारियाँ होती हैं, उन बीमारियों में अब खतरनाक ह्यूमन पेपिलोमावायरस (एचपीवी) भी शामिल हो गया है। मुंह का कैंसर, कैंसर के सबसे खतरनाक निचले हिस्से में से एक है। क्योंकि ये किसी व्यक्ति की जिंदगी को बुरी तरह से प्रभावित कर सकता है। किसी के बोलने के तरीके में बदलाव कर सकता है। खाने-पीने जैसे कामों को मुश्किल बना सकता है। सिर्फ इतना ही नहीं, ये कैंसर किसी व्यक्ति की शारीरिक बनावट में भी बदलाव कर सकता है।

किसी भी बीमारी की शुरुआत से पहले शरीर में कुछ लक्षण नजर आते हैं। कई बार हम इन लक्षणों को छोटा-मोटी परेशानी समझकर इग्नोर करने की गलती करते हैं। यही गलती कैंसर को शरीर में पांव पसंद करने का मौका देती है। किसी भी बीमारी के लक्षणों के प्रति लोगों में जागरूकता का होना बहुत जरूरी है। शरीर में दिखने वाले छोटे-छोटे संकीर्णता पर नजर रखना बहुत जरूरी है। क्योंकि कोई भी बीमारी शरीर में सटीक से पैदा नहीं होती, वो शरीर में कुछ लक्षण प्रकट होता है, ताकि वक्त पर इन बीमारियों की पहचान करके समय पर इलाज किया जा सके।

शरीर में होने वाले ग्रेब्रिएट्स को लें

किसी भी बीमारी को पकड़ने का सबसे पहला तरीका यह है कि आप अपने शरीर के किसी भी हिस्से में होने वाले होने का अनुभव करें। अगर शरीर के किसी हिस्से में आपको बेवजह दर्द हो रहा है तो बिना देर किए डॉक्टर से अपनी जांच कराएं। ब्रिटेन की नेशनल हेल्थ सर्विस के मुताबिक मुंह का कैंसर तब होता है, जब कोई किंक या ट्यूमर गाल के अंदर, जीभ पर, मुंह के ऊपरी हिस्से, मसूड़ों या होंठ पर उभरता है। आइए जानते हैं मुंह के कैंसर की पहचान कैसे की जा सकती है।

मुंह के कैंसर के लक्षण

1. मुंह में लंबे समय तक दर्दनाक छालों का बने रहना, जो जल्दी ठीक नहीं होता।
2. माथे या मुंह में किसी तरह की किंक बनना
3. दांत में दरार, जो ठीक नहीं है
4. जीभ या लिप का सल पड़ गया
5. जीभ की या परत में लाल या सफेद धब्बे
6. बोलने में परिवर्तन होना जैसे- अचानक तुतलाहट पैदा होना।

अगर आप ऊपर बताए गए किसी भी लक्षण को अभी महसूस कर रहे हैं तो बिना देरी के डॉक्टर का रूख करें। अगर आप रोजाना धूम्रपान करते हैं या शराब पीते हैं और शरीर में इस तरह के लक्षण महसूस कर रहे हैं तो आपको डॉक्टर के पास जाने में एक मिनट की भी देरी नहीं करनी चाहिए।

अस्वीकरण: इस लेख में बताए गए नुस्खे, तरीके और सलाह पर अमल करने से पहले डॉक्टर या संबंधित विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

ये भी पढ़ें: गुड़ : खाना खाने के बाद गुड खाने से शरीर को मिलते हैं ये फायदे, दूर हो सकते हैं कई नुकसान

नीचे स्वास्थ्य उपकरण देखें-
अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की गणना करें

आयु कैलक्यूलेटर के माध्यम से आयु की गणना करें

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here