Home Lifestyle साइकोसिस डिसऑर्डर क्या है, जानिए इसके लक्षण

साइकोसिस डिसऑर्डर क्या है, जानिए इसके लक्षण

0
साइकोसिस डिसऑर्डर क्या है, जानिए इसके लक्षण

[ad_1]

मनोविकृति: साइकोसिस एक तरह का गंभीर मनोविकार है। इस स्थिति में व्यक्ति कहीं खोया खोया सा रहता है। ग्राहक वास्तविक-नकली, सही-गलत समझ में फर्क नहीं पता है। इस समस्या में मरीज को ऐसी चीजों पर यकीन होता है जो सच में नहीं है। मतिभ्रम जैसी स्थिति होती है। इस स्थिति में व्यक्ति काल्पनिक बातें और वास्तविक बातों की ओर ज्यादा ध्यान देता है। आइए जानते हैं इसके बारे में विस्तार से

साइकोसिस डिसऑर्डर (साइकोसिस डिसऑर्डर)

इस बीमारी में सोचने का तरीका चीजों को महसूस करने का तरीका प्रभावित होता है, जिसका परिणाम ये होता है कि वास्तविकता से इंसान का संपर्क ठीक नहीं हो पाता है। इंसान उन चीजों पर यकीन करने लगता है जो सच है ही नहीं, ऐसी चीजों को प्राप्त दृश्य को महसूस करना शुरू कर देता है, जो असल में नहीं है और जब ऐसा होता है तो आपके आसपास के लोगों को लगता है कि इंसान झूठ बोल रहा है है। इसके चलते व्यक्ति कभी-कभी अप्रसन्नता और हिंसात्मक भी हो जाता है। स्थिति और घमंडी भी हो जाती है जब रोगी को पता चलता है कि उसका घर-परिवार उसे समझने की कोशिश नहीं करता है।

मनोविकार के लक्षण

  • ज्यादा से ज्यादा पोस्ट ऑफिस
  • फोकस की कमी
  • किसी भी तरह की नहीं होना
  • दूसरों के विश्वास से मेल ना खाना
  • ऐसी आवाज़ सुनाई जो कभी दी ही नहीं गई
  • बार-बार करने की संभावना होना
  • बातचीत विषय बदलना
  • परिवार या दोस्तों से दूरी बनाना
  • खुदकुशी के विचार आना
  • अवसाद
  • ज्यादा देर तक सो नहीं पाना
  • बार-बार ऐसा लगा कि लोग उसकी साजिश रच रहे हैं
  • कोई उसका पीछा नहीं कर रहा है
  • कैमरे के जरिए कोई उस पर नजर रख रहा है

मनोविकृति का कारण

  • ट्रॉमा की वजह से भी ये बीमारी हो सकती है। बचपन या किशोर अवस्था में कोई बुरी घटना जैसे यौन शोषण या फिर किसी का एक्सीडेंट होना या किसी की मृत्यु प्रभावित होना, इस तरह का मानसिक संतुलन हो सकता है और मनोविकृति जैसी बीमारियां हो सकती हैं।
  • निश्चित रूप से अधिक नशीले पदार्थ, शराब, ड्रग्स के सेवन से भी मेंटल डिसऑर्डर जैसे अपराधी होते हैं।
  • टॉक्सिन जैसे यूरिमिया बढ़ने से भी यह बीमारी हो सकती है
  • साइकोसिस ब्रेन में रसायन से जलने के कारण होते हैं।
  • न्यूरोट्रांसमीटर मस्तिष्क में रसायन होते हैं जो तंत्रिका कोशिकाओं के बीच जुड़ाव के लिए जिम्मेदार होते हैं। डोपामिन और फोलिक जैसे न्यूरो जकड़न में प्रवेश के कारण में लेट डिसऑर्डर हो सकते हैं।

अस्वीकरण: इस लेख में बताए गए नुस्खे, तरीके और सलाह पर अमल करने से पहले डॉक्टर या संबंधित विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

ये भी पढ़ें: दूध के साथ मछली खाना मना है, लेकिन चिकन के साथ क्या खा सकते हैं?

नीचे स्वास्थ्य उपकरण देखें-
अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की गणना करें

आयु कैलक्यूलेटर के माध्यम से आयु की गणना करें

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here