डब्ल्यूएफआई प्रमुख बृजभूषण शरण सिंह एएनएन के खिलाफ पहलवानों के विरोध का भाजपा सांसद राजकुमार चाहर ने किया समर्थन | रेसलर प्रोटेस्ट: रेसलरों को मिला बीजेपी सांसद का समर्थन, कहा

0
434
Spread the love


पहलवानों का विरोध समाचार: भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्ल्यूएफआई) के निवर्तमान अध्यक्ष और बीजेपी सासंद बृजभूषण शरण सिंह (बृज भूषण शरण सिंह) के खिलाफ धरना दे रहे पहलवानों को अब बीजेपी के एक सांसद का साथ मिला है। फतेहपुर सीकरी सांसद और बीजेपी मोर्चा के अध्यक्ष राजकुमार ने पहलवानों का समर्थन करते हुए बयान दिया है कि पहलवानों को न्याय सम्मान दिया जाना चाहिए। कुछ लोग कंधे पर बंदूक रखते हुए राजनीति कर रहे हैं, महिला पहलवान गौरवान्वित हैं, पुलिस अपनी कार्रवाई कर रही है।
किसी जिम्मेदार पर आरोप लगता है, तो जांच होनी चाहिए।

क्षमा हो तो कार्य हो

इसके साथ ही बीजेपी सांसद ने कहा कि अगर भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष बृजभूषण सिंह शरण ग्रहण करें तो कार्रवाई हो. वहीं बीजेपी नेता ने राहुल गांधी के विदेश में दिए गए जमा पर कहा कि बहुत सारी रोशनी वाली बातें करते हैं राहुल गांधी, वो गंभीर नहीं हैं। बीजेपी सांसद ने कहा कि हिंदुस्तान की प्रेस के सामने वह अपनी बात क्यों नहीं रखते हैं. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है। इसके अलावा उन्होंने स्पा के नेमिशारण्य में दृश्य शिविर पर कहा कि ये बड़ी घटना है, कोई पर्यावरण शिविर कर रहा है तो कोई समरसता कार्यक्रम।

गंगा नदी में दान मठ पहुंचे थे पहलवान

बता दें कि प्रदर्शनकारी पहलवान भारतीय कुश्ती महासंघ अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं, जिन पर कई महिला पहलवानों का यौन उत्पीड़न करने का आरोप है। इसी क्रम में साक्षी मलिक, विनेश फोगाट और बजरंग पूनिया समेत कई जिल्ददार मंगलवार को गंगा में नदी अपने खाते का बैंक सैकड़ों बैंकों के साथ उत्तराखंड में ‘हर की पौड़ी’ पहुंचे थे लेकिन खाप और किसान नेताओं ने उन्हें ऐसा नहीं करने के लिए राजी कर लिया था। इसके अलावा खेल मंत्री अनुराग ठाकुर भी पहलवानों से अपील करते हुए कहते हैं कि वे ऐसा कोई कदम नहीं उठाते जिससे खेल की महत्ता कम हो जाती है।

यूपी पॉलिटिक्स: 2024 को लेकर बीजेपी का ‘मेगा प्लान’, लोकसभा से देखने के स्तर तक होंगे कई कार्यक्रम, जानें- पूरी रणनीति



Source link

Umesh Solanki

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here