मुजफ्फरनगर नरेश टिकैत ने आज सोरम में बृजभूषण शरण सिंह अन्ना के खिलाफ खाप पंचायत बुलायी

0
57
Spread the love


बृजभूषण शरण सिंह न्यूज: बीजेपी सांसद बृजभूषण शरण सिंह की गिरफ्तारी की मांग और पहलवानों को इंसाफ खातों के लिए आज पश्चिमी यूपी में खाप हेडडे हुंकार भरेंगे। मुजफ्फरनगर (मुजफ्फरनगर) के ऐतिहासिक सोरम गांव में खाप पंचायत (खाप पंचायत) बुलाई गई है, जिसमें गुरुवार 1 जून को कोई बड़ा फैसला लिया जा सकता है। दिल्ली पुलिस द्वारा बृजभूषण शरण सिंह (बृजभूषण शरण सिंह) पर आरोप लगाने वाले खिलाड़ी को बालिग मामला बताते हैं और ज्यादा गरमाते हैं।

इस बीच बीजेपी विधायक नंद किशोर गुर्जर के बयानों ने भी आग में जाली निवेश का काम किया, जब उन्होंने बृजभूषण शरण सिंह का समर्थन किया। इसके बाद खाप पंचायतें आर या पार के मूड में आ गईं। हरियाणा, राजस्थान और यूपी के खाप हेडड्रेस आज सरकार को अपनी शक्तियों का दावा करने की कोशिश करेंगे।

खाप पंचायतों ने आर या पार का आलान किया

तीसरे में पहलवानों के मेडल में बहने का फैसला तो कहा गया, लेकिन गन्ना बेल्ट के नाम से मशहूर पश्चिमी यूपी की धरती पर अब पहलवानों के समर्थक किसानों ने आर या पार के आलान की तैयारी कर ली है। पश्चिमी यूपी के 28 खाप हेड हेड एक मंच पर मुजफ्फरनगर के सोरम में आज हुंकार भरेंगे। किसान नेता भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष और बालियान खाप के मुखिया नरेश टिकैत पहले ही अपने तल्ख तेवरों से अपने इरादे जता चुके हैं।

28 खाप पंचायतें शामिल हो सकती हैं

इस खाप पंचायत में शामिल होने वाले राजस्थान और हरियाणा के खाप हेड भी बड़े आंदोलन का ऐलान कर सकते हैं। मामला इस बात से और गरमा गया है जिसमें ब्रजभूषण शरण सिंह पर आरोप लगाने वाले एक पहलवान को दिल्ली पुलिस के बालिग बताएं जाने की खबरें आने लगीं। पश्चिमी यूपी में 28 खाप आते हैं, जिनमें बालियां खाप, सहरावत खाप, राती खाप, देशवाल खाप, बुढ़ियां खाप, बतीसा खाप, बेनीवाल खाप, निर्वाल खाप, कालखंडे सहित 28 खाप शामिल हैं। इन सभी को आज की खाप पंचायत के लिए बुलावा भेजा गया है।

हरियाणा का धनखड़ खाप, झाड़सा खाप, सहरावत खाप, मलिक खाप सहित के सभी खाप के हेडड्रेस प्रदेश को बुलाया गया है तो वहीं राजस्थान के भी सभी खाप हेडों से मुजफ्फरनगर आने का आह्वान किया गया है। इस पंचायत को सफल बनाने के लिए पश्चिमी यूपी में सभी जगह खाप हेडों ने बैठक की और आगे की रणनीति पर काम करना शुरू कर दिया है। खाप हेडक्वार्टर के तल्ख तेवर बताते हैं कि आग अंदर ही अंदर कैसे धधक रही है। खाप हेडों ने कहा है आर-पार होगा, जो देखेंगे।

सोरम में बड़ी खाप पंचायत होगी

खाप हेडमास्टर दादा नंद किशोर गुर्जर की एंट्री से भी नाराज हैं। ऐसे में आज सोरम गांव में फिर से इतिहास लिखा जा सकता है। पहलवानों ने बीकेयू के हेड नरेश टिकैत की झोली में मेडल अपने लिए इंसाफ मांगा है। इस इंसाफ की लड़ाई का गुट अब खाप पंचायतों के हाथ में है. अब खाप हेड अपनी ताकत का अतिक्रमण करेंगे, इस पंचायत पर सबकी नजरें टिकी हैं कि पहलवानों को जो इंसाफ दिल्ली और सड़कों पर आंदोलन करके भी नहीं मिला वो इंसाफ अब क्या पंचायतीराज पाएंगे।

खाप के फैसले बड़े होते हैं और पक्की भी, अब यूपी के मुजफ्फरनगर के सोरम में होने वाले खाप मुखियाओं की पंचायत पहलवानों के हक में क्या बड़ा फैसला होता है और बीजेपी सांसद बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ क्या कड़ा रुख अपनाते हैं ये भी वाली बात होगी, लेकिन इतना साफ है कि खापों का जो भी एलन होगा वो पहलवानों के हक की लड़ाई को किसे मुकाम तक ले जाएगा इस पर भी सबकी नजरें टिकी हैं।

ये भी पढ़ें- यूपी पॉलिटिक्स: अखिलेश यादव के सीएम योगी पर तंज, कहा- ‘यूपी के डीजीपी नहीं हैं कार्यशिक्षण’, बताई ये खास वजह



Source link

Umesh Solanki

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here