शरद पवार लोकसभा चुनाव 2024 हसन मुश्रीफ प्रतीक पाटिल और करण सिंह गायकवाड़ उम्मीदवार

0
60
Spread the love


लोकसभा चुनाव 2024: निर्णायक में लोकसभा चुनाव को लेकर सभी राजनीतिक दलों ने तैयारी शुरू कर दी है। महाराष्ट्र में भी एमवीए और बीजेपी-शिवसेना इस हफ्ते से कमर कस चुके हैं। इसके साथ ही बीजेपी-शिवसेना महागठबंधन के सीट बंटवारे को लेकर शुरुआती चर्चा चल रही है। एनसीपी ने 2024 में ज्यादा से ज्यादा सांसद होने की नई योजना तैयार की है। एनसीपी नए फंड का इस्तेमाल चुनावी मैदानों में चुनावी मैदानों में करने के लिए करते हैं। साथ ही पार्टी के युवा नेताओं को भी मौका देगा।

एनसीपी इसे मौका दे सकता है
इसके तहत एनसीपी ने कोल्हापुर लोकसभा से विधायक हसन मुश्रीफ और हटकनंगले लोकसभा क्षेत्र से एनसीपी के प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटिल के बेटे पाटिल और कर्ण सिंह गायकवाड़ को मैदान में दिखने का प्रयास शुरू कर दिया है। इसके साथ ही चर्चा है कि पूर्व धन मंत्री मुंडे को बीड 60 सीटों से उम्मीदवार बनाया जाएगा। लेकिन पार्टी ने अब तक किसी भी आधिकारिक पद की घोषणा नहीं की है।

शरद पवार ने अपना नर रास
इस बीच सीट बंटवारे को लेकर एमवीए में विदेशी लोगों को मिल रहा है। पंजीकृत के नेता अजित पवार, कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले और भाजपा ठाकरे समूह के सांसद संजय राउत ने एमवीए में विवाद को तूल दे दिया। हालांकि, एनसीपी के प्रमुख शरद पवार ने दरार के बंटवारे पर रूढ़ियां अपना ली हैं और भाजपा के लिए सीट वापसी की तैयारी दिखाई दे रही है।

एमवीए में सीट शेयरिंग
बता दें, एमवीए के अंदर पिछले कुछ दिनों से आगामी 2024 चुनाव को लेकर सीट शेयरिंग पर मामला स्पष्ट नहीं है। एमवीए में कांग्रेस, बीजेपी और एनसीपी के बीच सीट शेयरिंग पर मत बन रहा है। सीट शेयरिंग पर नाना पटोले, अजित पवार और संजय राउत के बयान अलग-अलग हैं।

ये भी पढ़ें: महाराष्ट्र: यूथ कांग्रेस ने डबलिन के घर के कार्यकारी पोस्टर, पहलवानों के प्रदर्शन से आर्कषक मामला



Source link

Umesh Solanki

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here