तेजी से ठीक होने के लिए पोस्ट सी सेक्शन डिलीवरी डाइट

0
55
Spread the love


सी-सेक्शन डिलीवरी डाइट: सी सेक्शन एग्रीमेंट के वैसे तो कई फायदे हैं. लेकिन ये आसान नहीं होता। ये एक बड़ा ऑपरेशन होता है, जिसमें पेट की कई परतों को काटकर बच्चों को बाहर निकाल दिया जाता है। ऑपरेशन के बाद मां का शरीर ठीक होने में काफी देर तक लगता है। उठने-बैठने, लेटने, चलने-फिरने में पीड़ा का सामना करना पड़ता है। लगभग 6 महीने के बाद बॉडी पूरी तरह से ठीक हो जाती है। ऐसे में अगर आप खुद के डाइट का ध्यान रखें तो आपकी रिकवरी तेज हो सकती है। तो जानिए आपको अपनी डाइट में किन चीजों को शामिल करना चाहिए ताकि आपकी रिकवरी हो सके।

दस्तावेजों का विवरण देखें और आहार का हिस्सा बनाएं

आयरन से भरपूर पदार्थ

नाराज होने के बाद मैं ब्लीडिंग कर रहा हूं। लेकिन शिकायत करते हैं कि जब आपके पेट में चीरा लगाया जाता है तो उस समय भी खून निकलता है। इस वजह से सी सेक्शन में शिकायत के बाद महिलाएं ज्यादा कमजोरी महसूस करने लगती हैं। ऐसे में महिलाओं को अपने डाइट में चुकंदर, अनार, अदरक, मुनक्का, रसायन, बादाम, खुबानी, पंपकिन सीड, पालक यानी भी आयरन के बारे में पता चलता है कि उन सभी चीजों को अपने आहार में शामिल करना चाहिए। इससे ब्लड लोस में जाएगा और कमजोरी दूर होगी।

पचने वाला खाना

आपको अपने आहार से खाने को दूर कर देना चाहिए। ऐसे भोजन को अतिरिक्त करना जिससे आपका पाचन सही रहता है। क्योंकि अगर आप तेल आहार या आहार में मैदे से बनी चीजों को शामिल करते हैं तो इसे पचाना मुश्किल होता है। इससे पेट फूलना अपच की समस्या होती है और ऑपरेशन में परेशानी हो सकती है। ऐसे में आप अपने डाइट में दही दही, सूप, खिचड़ी, ओट्स, हरे चने, सलाद, शकरकंद शामिल करें। इससे कब्ज और अपच से बचाव हो सकता है। क्योंकि जब आपको कब्ज की समस्या होती है तो मल त्यागने में आप ज्वाइंट एंबेसडर होते हैं और ऐसे में आपके ऑपरेशन के टैंक पर भी फोर्स होता है।

इंटेक

छह अनुच्छेद होने पर महिलाओं के शरीर में पानी और खून दोनों की कमी होने लगती है। ऐसे में महिलाओं को अपनी डाइट में इतनी इंटेक को बढ़ाना चाहिए। आप अपने आहार में सूप, जूस, छाछ, नारियल पानी, नारियल का दूध या लस्सी शामिल कर सकते हैं।

विटामिन, प्रोटीन और कैल्शियम

सी शिकायत के बाद महिलाओं को प्रोटीन, विटामिन और कैल्शियम से भरपूर चीजें खानी चाहिए। इसके लिए आप अपने आहार में टोफू, योगर्ट, अंगूर, अंगूर अनार, ट्रॉबेरी, दाल शामिल कर सकते हैं, इससे टिश्यू सेल्स की स्वीकृति हो सकती है। प्रतिरक्षा मजबूत होती है। इंफेक्शन का खतरा कम होता है। है।

ये भी पढ़ें: दोस्त की लिप्सम से काम चल रहे हैं तो संभलकर, ये लिप्स पर करता है बुरा असर

नीचे स्वास्थ्य उपकरण देखें-
अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की गणना करें

आयु कैलक्यूलेटर के माध्यम से आयु की गणना करें



Source link

Umesh Solanki

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here