चाणक्य नीति 2023 इन जगहों पर खर्च करें और दान करें, धन में वृद्धि होगी

0
43
Spread the love


चाणक्य नीति हिंदी में: अर्थशास्त्रियों से लेकर हमारे घर के बड़े-बुजुर्ग भी हमेशा ही धन संचय की बात करते हैं। क्योंकि आज संचय किया गया धन ही भविष्य और कठिन परिस्थियों में काम आता है।

वरीयता क्रम में एक अंश चाणक्य भी अपनी नीति में किसी व्यक्ति को धन कमाने और बचाने की बात कहते हैं। चाणक्य नीति हमेशा ही सफल सुखी जीवन जीने के लिए सबसे महत्वपूर्ण मानी जाती है। आचार्य चाणक्य को अर्थशास्त्र और नीतिशास्त्र का ज्ञात माना जाता है।

चाणक्य में न केवल धर्म, अर्थशास्त्र, नीतिशास्त्र, राजनीति बल्कि समाज के सभी पहलुओं का गहन ज्ञान और अंतदृष्टि थी। चाणक्य की नीति को अपनाकर आप भी सफलता की सीढ़ी चढ़ सकते हैं। चाणक्य की बचत की बातें करते हैं। लेकिन उन्होंने बताया कि हमें कब और किन जगहों पर कंजूसी करने से बचना चाहिए। चाणक्य कहते हैं, इन जगहों पर खर्च किए गए पैसे कभी भी नहीं जाते हैं। आइए जानते हैं वो कौन सी जगहें हैं।

  • धार्मिक स्थल: धार्मिक स्थलों में दान देने से कभी पीछे न हटें। पवित्र स्थल पर दिए गए दान से बहुत प्राप्त पुण्य होता है। इसके साथ ही जीवन में सकारात्मकता दिखाई देती है। क्योंकि धार्मिक स्थानों पर जमैका के अनुयायियों को बेहतर सुविधा दी जाती है, मंदिर का रख-रखाव होता है और धुंधला-गरीब लोगों का पेट भी भरा जाता है।
  • गरीब और नीद: गरीब, दोपहर और स्नैपशॉट की मदद के लिए हमेशा तैयार रहें। इस कार्य से आपको पूजा-पाठ से अधिक पुण्य मिलेगा। क्योंकि इन कार्यों के पुण्यफल स्वयं भगवान देते हैं। इन लोगों की मदद करने से या गरीब-अनाथ बच्चों के भोजन, वस्त्र, शिक्षा आदि में पैसा खर्च करने से आपकी आमदनी कभी कम नहीं होगी।
  • सामाजिक कार्यों में: चाणक्य के अनुसार हर व्यक्ति को अपनी मेहनत की कमाई का एक हिस्सा सामाजिक कार्यों में लगाना चाहिए। आप इसका उपयोग अस्पताल बनवाने, स्कूल बनवाने, प्याऊ बनवाने, तालाब आदि बनवाने में कर सकते हैं। इससे आपको कई लोगों के दुआएं मिलते हैं। इस तरह के काम करने वालों से भगवान भी प्रसन्न रहते हैं।
  • बीमारी में: आचार्य चाणक्य अपनी नीति में कहते हैं कि यदि आप आर्थिक रूप से सक्षम हैं तो जहाँ तक संभव हो किसी बीमारी को ठीक करने या दस्तावेज़ों में पैसा खर्च करें। क्योंकि कई बार ऐसा होता है कि किसी की बीमारी में सहयोग न करके बाद में प्रदूषण होता है। इसलिए इन मामलों में बिल्कुल भी कंजूसी न करें।

ये भी पढ़ें: पति के लिए लकी गर्ल्स: पति के लिए होती हैं लकी इस राशि की लड़कियां, हर परिस्थिती में वादा होता है

अस्वीकरण: यहां देखें सूचना स्ट्रीमिंग सिर्फ और सूचनाओं पर आधारित है। यहां यह बताता है कि ABPLive.com किसी भी तरह की मान्यता, सूचना की पुष्टि नहीं करता है। किसी भी विशेषज्ञ की जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित सलाह लें।



Source link

Umesh Solanki

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here