Home Lifestyle इन स्वास्थ्य समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए पिएं देसी घी वाला दूध

इन स्वास्थ्य समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए पिएं देसी घी वाला दूध

0

[ad_1]

दूध के साथ देसी घी: इस भाग दौड़ भरी जिंदगी में हमारी लाइफस्टाइल और खान पान दोनों ही खराब हैं। यही कारण है कि आए दिन हमें किसी न किसी तरह के जीवाणु रहते हैं। इनमें से सबसे आम समस्या है कब्ज और जोड़ों का दर्द। पहले ये उम्रदराज लोगों को हुआ था लेकिन आज के दौर में नौजवान भी इससे दो-चार हो रहे हैं। हालांकि कुछ घरेलू उपायों से आप इन 100 लोगों को दूर कर सकते हैं। इन चुनिंदा में से एक उपाय है रोज़ एक टहलते हुए दुग्धपान लेकिन इसे हमेशा नहीं बल्कि कैम्बिनेशन के साथ देखा जाना चाहिए। अगर आप दूध में एक चम्मच देसी घी मिलाकर पिएंगे तो आप इन सभी अंशों से छुटकारा पा सकते हैं। आइए जानते हैं घी को दूध में मिलाकर पीने के क्या-क्या फायदे हैं।

घी को दूध में मिलाकर पीने के फायदे जानिए

1.पाचन तंत्र के दुरुस्त न होने के कारण आप कई तरह के जीवाणुओं को दूर करने में सक्षम हैं। जैसे हर घंटे पेट का फूलना रहना। मल ना त्याग पाना और फिर समूह से जुड़ा हुआ है कब्ज की समस्या। ऐसे में अगर आप रोज रात को सोने के पानी में एक चम्मच घी मिलाकर पी लेते हैं तो इससे आपके आहार में सुधार हो सकता है। ऐसा करने से आपको मल त्याग में आसानी होती है और कब्ज की समस्या से राहत मिल सकती है।

2.अगर आपको बहुत ज्यादा तनाव हो रहा है तो भी आप रात को सोते समय दूध में घी मिलाकर पी सकते हैं। सुबह नींद अच्छी आती है और अगली सुबह आप तरोताजा महसूस कर सकते हैं। तनाव कम करने में मदद मिलती है। घी और दूध दोनों मिलकर शरीर को पर्याप्त ऊर्जा देते हैं।

3.जोड़ों में दर्द की समस्या रहती है तो आपको रोजाना दूध में देसी घी का घेरा बनाना होगा। जोड़ों के जोड़ों में लुब्रिकेशन बढ़ रहा है। दूध में मौजूद कैल्शियम हड्डियों को मजबूत बनाता है और शरीर की ऐंठन दूर होती है।

4.घिस और दूध दोनों ही मॉइश्चराइजर होते हैं। अगर आप इसे रोजाना रात भर करते हैं तो इससे आपकी त्वचा जवां दिख सकती है। एजिंग के लक्षण कम होते हैं और ड्राइनेस की समस्या भी दूर होती है।

5.दूध में घसीटते हुए पढ़ने से शरीर की कमजोरी दूर होती है। रोग क्षमता बढ़ती जा रही है। शारीरिक सक्रियता करने के लिए शरीर को जबरदस्त शक्तियां भी मिल जाती हैं।

अस्वीकरण: इस लेख में बताए गए नुस्खे, तरीके और सलाह पर अमल करने से पहले डॉक्टर या संबंधित विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

यह भी पढ़ें

नीचे स्वास्थ्य उपकरण देखें-
अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की गणना करें

आयु कैलक्यूलेटर के माध्यम से आयु की गणना करें

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here