[ad_1]

पंजाब खबर: राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित और पंजाब की भगवंत मान सरकार में एक बार फिर तनातनी को मिल रही है। सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान राज्यपाल पुरोहित ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में स्पष्ट कहा है कि राज्य का नंबर राज्यपाल के प्रति जवाबदेह है। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने आदेश में कहा है कि सीएम को कागज भी देना होगा और राज्यपाल की चिट्ठी का जवाब भी देना होगा।

‘कई मुद्दों पर नहीं होने जा रहा कार्रवाई…जा सुप्रीम कोर्ट तय करता हूं’
वहीं दिल्ली के रामलीला ग्राउंड में मान द्वारा दिए गए बयानों पर राज्यपाल पुरोहित ने कहा कि उन्होंने जो कहा मैं उनकी बराबरी नहीं कर रहा हूं क्योंकि सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि राज्यपाल सीएम की इक्विली न करें। उन्होंने कहा कि मैं 19-20 को पंजाब विधानसभा के विशेष सेशन की अनुमति दे रहा हूं, लेकिन मैं पंजाब सरकार के उन मुद्दों को जाम कर रहा हूं जिन पर कार्रवाई नहीं हो रही है। जब कई चीजें घोटाला हो जाती हैं तब या तो सुप्रीम कोर्ट की पसंद या राष्ट्रपति के पास विचार।

बता दें कि पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने दिल्ली के रामलीला मैदान में कहा था कि राज्यपाल हमें विशेष सत्र बुलाने की अनुमति नहीं दे रहे थे जिसके बाद हम सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें सत्र बुलाने की अनुमति दी थी।

500 करोड़ में नया गारबेज प्लांट दिखेगा
राज्यपाल पुरोहित द्वारा सोमवार को सभी पार्टियों को बुलाया गया था, यह बैठक डंपिंग ग्राउंड को लेकर बुलाई गई थी। बैठक के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए राज्यपाल पुरोहितों ने कहा कि छत के डंपिंग ग्राउंड से छुटकारा पाने के लिए 500 करोड़ की लागत से नया गारबेज प्लांट लगाएं।

‘पाकिस्तान पर फिर से सर्जिकल स्ट्राइक’
पंजाब में सीमा पार से हो रही ड्रग्स की आपूर्ति को लेकर राज्यपाल ने कहा कि पाकिस्तान की सेना और सरकार के बिना पंजाब में ड्रग्स की आपूर्ति नहीं हो सकती है। पाकिस्तान ड्रग्स के एड में हिडन वॉर लड़ रहा है। उन्होंने कहा कि केंद्र पता नहीं मानेगा या नहीं मेरा मन है कि इसे लेकर एक दो सर्जिकल स्ट्राइक होना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘मैं पीएम और गृहमंत्री को बोलूंगा और उन्हें पत्र भी लिखूंगा।’

यह भी पढ़ें: पहलवानों का विरोध: ‘गेंद सेंटर के पाले में है,’ राकेश टिकैत बोले- पहलवान जो भी तय करेंगे हम उनका साथ देंगे

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *