[ad_1]

भारत में सदियों से ब्रेंस का इस्तेमाल किया जा रहा है। पानी पीने से लेकर खाना बनाना और खाना स्टोर करने के लिए ताब का इस्तेमाल किया जाता है। अब इस मॉर्डन लाइफस्टाइल को बेहतर और बीमारी से मुक्त बनाने के लिए टैब का इस्तेमाल किया जा रहा है। कई लोग जो कांच, स्टील, प्लास्टिक का ज्यादा इस्तेमाल करते हैं लेकिन आज भी कुछ घरों में ब्रेंज के नोट का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल किया जा रहा है। ताकि कोई भी बीमारी, संक्रमण उन्हें घर में घुस न पाए। पानी पीने के लिए ब्रेज़ेन का जग, टम्बलर, पानी की बोतल का उपयोग करने की सलाह दें। कहा जाता है कि ब्रेज़ेन के नोट में पानी पीने से इम्युनिटी बेहतर होती है। लेकिन आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आपने ब्रेज़ेन के नोटों में पानी के साथ गलती से कुछ मिला दिया है तो फिर वह आपके लिए जहर से कम नहीं है। इसलिए जब भी ब्रेज़ेन के नोट में पानी को पिएं तो इन टिप्स को फॉलो करना न भूलें। p>

हालिया जांच और दर्ज किए गए दावों को देखते हुए य कहना गलत नहीं होगा कि कुछ वर्षों में ब्रेज़ेन के बारे में लोग बीच में काफी प्रसिद्ध हो गए हैं। कॉपर शरीर के लिए लाभ है। साथ ही यह ब्लड सर्कुलेशन बेहतर करने के होश से भी होता है। हेल्दी बोन और टिश्यूज मेकिंग होश से काफी अच्छा है। ब्रेंजा का पानी ज्यादा पीने से लिवर-किडनी को नुकसान पहुंच सकता है। ज्यादा ब्रेन का पानी स्टार्टअप के लिए सही नहीं है। काफी ज्यादा डैमेज हो सकता है। केनेट के लंबे समय से यूज कर रहे हैं तो ऐसा मत कीजिए। बीच-बीच में निशान साफ ​​करें। क्योंकि लंबे समय तक यूज करने के कारण इसमें बैक्टीरिया की ज्वर होने की संभावना होती है जो एक व्यक्ति के लिए काफी अधिक नुकसानदायक होता है।  अगर कोई व्यक्ति ज्यादा ब्रेंजा में पानी पी रहा है तो उसे चक्कर आना, पेट में दर्द, किडनी फेल जैसी समस्या हो सकती है। चौकी मारी जानी चाहिए

तांबे के शॉट्स में पानी अच्छा रखा है लेकिन इसमें आप एक्सपेरिमेंट के चक्कर में नींबू और शहद मिला लें तो वो पेट में जाकर जहर बन जाएगा। किडनी या हार्ट के मरीज को ब्रोंक के दाग में रखा गया पानी बिल्कुल नहीं भरा जाना चाहिए। अगर पीने का मन भी है तो इसके लिए पहले डॉक्टर की सलाह लें। की सलाह अवश्य लें। 

ये भी पढ़ें: योग या कसरत के दौरान दिखाई देता है, तो यह सामान्य नहीं बल्कि यह शारीरिक गड़बड़ी है

[ad_2]

Source link

Umesh Solanki

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *