Home Feature मध्य प्रदेश सरकार ने सतपुड़ा भवन के अधिकारियों एवं अन्य कर्मचारियों के लिए नये कार्यालय की व्यवस्था की

मध्य प्रदेश सरकार ने सतपुड़ा भवन के अधिकारियों एवं अन्य कर्मचारियों के लिए नये कार्यालय की व्यवस्था की

0

[ad_1]

भोपाल समाचार: राजधानी भोपाल के सतपुड़ा भवन (सतपुड़ा भवन) में अग्रिकांड के बाद आदिम क्षेत्रीय क्षेत्रीय विकास योजना और स्वास्थ्य संचालन के कार्यालय पूरी तरह से खाक हो गए हैं। आगजनी की घटना के बाद सामान्य प्रशासन विभाग ने मंगलवार को इन गैर-अधिकारियों-कर्मचारियों के लिए अवकाश घोषित कर दिया था। यह अवकाश (कार्यालय अवकाश) बुधवार को भी जारी किया गया है जिसका आदेश सामान्य प्रशासन विभाग ने जारी किया है।

राजधानी भोपाल में स्थित सतपुड़ा भवन में सोमवार को दोपहर साढ़े तीन बजे अचानक से आग लग गई थी। सतपुड़ा इमारत के तीसरे तल पर आग लग रही थी, धीरे-धीरे आठवीं तल तक बढ़ती जा रही थी। लगातार 17 घंटे तक आग ने तांडव मचाया था। आग की वजह से सेपुड़ा भवन में स्थित आतिम क्षेत्रीय क्षेत्रीय विकास योजना और स्वास्थ्य लाभ के लिए पूरी तरह से खाक हो गए हैं। आगजनी की घटना के बाद मंगलवार को दोनों ही अनुबंध के अधिकारी-कर्मचारी कार्यालय के लिए आ गए थे, लेकिन अधिकारियों-कर्मचारियों ने सतपुड़ा भवन के सामने सड़क और पेड़ के किनारे को ही अपना समय काट दिया था। हालांकि बाद में सामान्य प्रशासन विभाग ने इन सम्बद्ध अधिकारियों-कर्मचारियों के लिए अवकाश घोषित कर दिया था।

दूसरे देखने में सही काम करेंगेअधिकारी

आगजनी से प्रभावित हुए दोनों दृष्टियों के अधिकारी कर्मचारी अब अन्य दृष्टियों में अपना कामकाज देखते हैं। शासन द्वारा जारी आदेश के अनुसार सीएमए प्रत्येक सीवीटी के नए अधिकारियों में यह अधिकारी-कर्मचारी काम देखते हैं। जारी आदेश के अनुसार स्वास्थ्य कर्मी दिनेश श्रीवास्तव में चार कर्मचारी सहित यहां बैठेंगे। जबकि कार्यकारी निदेशक मल्लिका नगर निगम भोपाल अविज्ञप्त शाखा के 16 कर्मचारियों के साथ काम करने का काम करता है। ऑपरेटर अजजा सर शाह जफर विज्ञप्त शाखा के 20 कर्मचारियों के साथ बैठेंगी। वरिष्ठ संयुक्त कार्यकर्ता वंदना खरे परिवार कल्याण और निवेश शाखा के साथ आठ कर्मचारियों के साथ काम करते हैं। वरिष्ठ कर्मचारी डॉ. अभय खरे कार्यालय की स्थापना और सामान्य शाखा के 20 कर्मचारी साथ बैठेंगे।

इन अधिकारियों का भी बदला

संयुक्त कार्यकर्ता डॉ. राजीव बजाज नर्सिंग शाखा के 14 कर्मचारी साथ बैठेंगे। संयुक्त कार्यकर्ता डॉ. एमएस सागर शिकायत शाखा के 13 कर्मचारी साथ बैठेंगे। उपचालक दिव्या पटेल लीगल सेल के आठ कर्मचारियों के साथ बैठी हैं। डॉ डॉ. राधिका गुप्ता शेयरधारक शाखा के चार कर्मचारियों के साथ अपना कामकाज कार्य। वे यही आरटीआई, ट्रांसपोर्ट ब्रांच के कर्मचारियों के साथ अपना कामकाज संचालित करने वाले अधिकार हैं। उप निदेशक डॉ. महेंद्र प्रताप सिंह चौहान आईडी एसपी, आयोग शाखा का संचालन करेगा।

अस्पताल प्रशासन के अधिकारी यहां से अपना काम करेंगे

उपकर्मी डॉ. हिमांशु जायसवाल विधानसभा, समन्वय और जन शिकायत शाखा के 13 कर्मचारियों के साथ जिला निर्वाचन अधिकारी भोपाल के कार्यालय और आयुष्मान भारत के कार्यालय में अपना कामकाज करेंगे। अस्पताल प्रशासन के संचालक डॉ. पंकज जैन हेल्थ कॉरपोरेशन के चंगुल में अस्पताल प्रशासन शाखा के 20 कर्मचारियों के साथ कामकाज संचालित होगा। अतिरिक्त ऑपरेटर शैलेन्द्र कुमार सिंह एनएचएम कार्यालय में वित्त और वेतन शाखा के 27 कर्मचारी साथ रहेंगे।

ये भी पढ़ें-

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here