[ad_1]

आदिपुरुष पर रामानंद सागर पुत्र की टिप्पणी: रामायण का नाम जब भी जान में आता है तो रामानंद सागर की बनाई टीवी सीरीज ही आंखों के आगे आती है। उन्होंने इस सीरियल को बहुत गंभीरता और जज्बे के साथ बनाया था कि आज तक इस शो की लिटिल क्लिप्स इंस्टाग्राम और तमाम सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर यूथ द्वारा वायरल किए जाते हैं।

600 करोड़ के आदिपुरुष को लेकर बड़े बड़े ख्याल थे

अब प्रभास के आदिपुरुष को लगता था कि ये फिल्म एक महाजांपल लेकर जा रही है और कथित तौर पर 600 करोड़ की लागत से बनी फिल्म कुछ अलग जादू दिखाती है। ऐसे में रिलीज के बाद से जो भी इस फिल्म को थिएटर्स से वापस आते देख रहा है, उसके हाथ हाथों पर धरे नजर आ रहे हैं।

सोशल मीडिया पर फिल्म आदिपुरुष की काफी निंदा की जा रही है। फिल्म के डायलॉग्स को लेकर सीन्स और कपड़ों पर लोग आपत्ति जता रहे हैं। ऐसे में रामायण बनाने वाले रामानंद सागर के बेटे ने भी प्रभास की फिल्म आदिपुरुष पर टिप्पणी की है।

आदिपुरुष को सोशल मीडिया पर मिल रही हेट, क्या बोले रामानंद सागर के बेटे

ओम राउत की फिल्म आदिपुरुष पर लोग अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं, वहीं प्रेम सागर ने भी इस फिल्म को लेकर मेकर्स पर गुस्सा जाहिर किया है। हिंदुस्ताव लाइव के मुताबिक प्रेम सागर ने कहा कि उनके पिता ने भी रामायण बनाने के लिए कुछ लिबर्टीज ली थीं, ताकि पिता टीवी पर वो अच्छा लगे। लेकिन ये तो फैक्ट्स के साथ ही अनर्थ कर डाले।

हनुमान जी के डायलॉग पर प्रेम सागर ने प्रतिक्रिया दी है

उन्होंने बताया कि फिल्म अभी नहीं दिखती है, लेकिन जिस तरह से हनुमान जी के डायलॉग हैं- ‘तेल तेरे बाप का, कपड़े तेरे बाप के और जलेगी भी तेरे बाप की। ‘इस पर प्यार हंसते हैं और बोलते हैं- ओम राउत ने मार्वल्स बनाने की कोशिश की। पापा जी ने भी क्रिएटिव लिबर्टीज ली थे लेकिन वे रामायण के श्रीराम को बहुत अच्छे से समझते थे। उन्होंने कई स्क्रिप्चर पढ़े हैं और फिर कुछ दिशाओं के साथ श्रृंखला पेश की गई थी लेकिन फैक्ट्स के साथ कोई छेड़छाड़ नहीं की गई थी।

प्रेम ने आगे कहा- ‘मेकर्स को ये फिल्म ब्रीच कैंडी या कोलाबा में दिखानी चाहिए। यह दुनिया भर में मत दिखाओ, लोगों के संतों को हर मत मत करो। एकनाथ और कृतिवसी ने भी रामायण बनाई थी लेकिन उन्होंने लगातार बदलाव नहीं किया था, उन्होंने रंगों को बदला था, भाषा बदली थी लेकिन फैक्ट्स नहीं बदले थे।’

ये भी पढ़ें : प्रभास की आदिपुरुष से खफा दीपिका चिखलिया के फैंस! बोले- नारंगी अर्थ बिंदी लगा अभिनय तो कर लोगे पर नहीं बन पाओगे रामानंद सागर की ‘सीता’

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *