योग टिप्स शाम को योग करने का सही तरीका

0
136
Spread the love


अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2023: योग या कसरत के लिए सबसे अच्छा समय सुबह का माना जाता है। लेकिन सभी लोग सुबह-सुबह अपनी फिटनेस पर ध्यान नहीं दे पाते हैं। कुछ लोग ऐसे होते हैं जिनमें शाम का वक्त आता है। लेकिन ये सोच कर वर्कआउट न करें कि दिन के बाद अब क्या फायदा। अगर योगा करना हो तो बहुत सारे सवाल मन में आते हैं। पहला सवाल यही है कि क्या दिन भर चाय, नाश्ता और घोषणा करने के बाद शाम को योग कर सकते हैं। अगर आपका भी यही सवाल है तो जान समर्थक इसका जवाब हां है। अब शाम को भी योग कर सकते हैं। इसके भी बहुत से फायदे हैं.

शाम को योग करने के फायदे

अगर आपको शाम को योग करना है तो इसमें कोई बुराई नहीं है। बस ये ध्यान रखें कि आपको योग करने के चार घंटे बाद कुछ भी खाने के कम से कम करना चाहिए। कई लोग तो शाम को योगा करने को ज्यादा श्रेष्ठ मानते हैं। क्योंकि, तब कोई हड़बड़ी नहीं होती। और वर्कआउट के लिए भरपूर समय होता है। यही कारण है कि शाम को किए जाने वाले योगा को मानसिक धारणा देने वाला योगा भी माना जाता है। शाम को योगा करना हो तो वॉर्मअप की भी जरूरत नहीं होती। क्योंकि शरीर दिन भर से गतिविधियां ही रहती है।

कौन-कौन से योग कर सकते हैं?

  1. शाम के समय कुछ खास योगासन करना लाभ होता है। जिसमें से एक अधोमुखासन है। इस आसन से पैर और पेट की मसल्स का एक अच्छा स्ट्रेच मिलता है। उसी दिन का सारा स्ट्रेस भी रिलीज हो जाता है।
  2. वेस्ट वोटासन करने से पेट की चर्बी बर्न होती है और डाइजेशन भी बेहतर होता है। रात में कमजोर पड़ रहे मेटाबॉलिज्म को फिर से सक्रिय करने में ये अवरुद्ध है।
  3. उत्तानासन से संपूर्ण मुक्त प्रणाली मजबूत होती है। पीठ दर्द में भी आराम मिलता है और दीमाग को शांति मिलती है।
  4. त्रिकोणासन से आप फिट तो रहते ही हैं। साथ ही इनडाइजेशन और एसिडिटी से भी राहत मिलती है।
  5. दिन भर बैठे रहने से रीढ़ की हड्डी में तनाव बढ़ जाता है। शाम को अर्धमत्येंद्रासन करने से बैक पेन से राहत मिलती है और ब्लड सर्कुलेशन भी नॉर्मल रहता है।

यह भी पढ़ें

नीचे स्वास्थ्य उपकरण देखें-
अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की गणना करें

आयु कैलक्यूलेटर के माध्यम से आयु की गणना करें



Source link

Umesh Solanki

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here