Home Lifestyle गर्भाशय संबंधी समस्याओं से निपटने के लिए करें इन 3 योग आसनों का अभ्यास

गर्भाशय संबंधी समस्याओं से निपटने के लिए करें इन 3 योग आसनों का अभ्यास

0

[ad_1]

आज पूरा विश्व योग दिवस मना रहा है। यह खास दिन हर साल जून की 21 तारीख को मनाया जाता है। योग के फायदे तो कई हैं। योग न सिर्फ आपको शारीरिक स्वास्थ्य ठीक करता है बल्कि यह आपके मस्तिष्क को शांत करके आपको शांति प्रदान करता है। हर साल की इस साल अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की थीम वसुधैव कुटुंबकम है। जिसका मतलब है पूरी पृथ्वी एक परिवार की तरह है। जैसा कि इस थीम से ही आपको पता चल रहा है कि इसके जरिए यह कोशिश की जा रही है कि इस धरती के सभी लोग हमारे परिवार की तरह हैं और सभी के स्वास्थ्य के लिए योग बेहद जरूरी है।

योग की मदद से कई बीमारियों का इलाज संभव हो पाया है। महिलाओं को तो योग जरूरी करना चाहिए। क्योंकि एक देर के बाद महिलाओं को यूट्रस, ओवेरिटन, ब्रेस्ट कैंसर से जूझना पड़ता है। कई महिलाएं जो सही नींद पर कांसीव नहीं पाती हैं। ऐसे में योग है जो आपको इन उलझनों से पूरा कर सकता है।

इस विशेष योग दिवस के लोगों पर सब्सक्राइब किस तरह से योग के माध्यम से महिलाएं अपने यूट्रस और ओवरी को हेल्दी रख सकती हैं। आज इस विशेष अवसर पर आपको बताएंगे इससे जुड़े दो योगासनों के बारे में जा रहे हैं।

आसन भोजन

यूट्रस या ओवरी को हेल्दी रखने के लिए महिलाओं को हर रोज आहार आहार जरूर लेना चाहिए। अगर आप इसे एक दिन में देखेंगे तो आपके पैर उभरेंगे साथ ही आप भी स्वस्थ रहेंगे। सबसे पहले सूर्य की तरफ मुंह करके बैठ जाएं। इसके बाद पैरों को सीधा सीधा कर लें और फिर पैरों की घुटनों से मुड़ते हुए तलवों को एक दूसरे से मिला लें। अब अपने हाथों को फोल्ड करते हुए पैरों के तलवे को पकड़ लें। इसके बाद दोनों आंखों को बंद कर लें।

तितली की तरह दोनों हाथ को बोलें। इस आसन को 5 मिनट तक करें। जिन लोगों को घुटनों की शिकायत होती है, उनसे भी एकदम सही फाटक से आराम मिलेगा।

सेतुबंधासन

सेतुबंधासन जैसा कि नाम से लग रहा है इसका मतलब होता है पूरे शरीर को एक पुल की तरह लेना। इस आसन को करने से पेट, पैर, पैर, हाथों की हथेलियों की मसल्स को पाने के साथ ही गर्भावस्था भी हेल्दी बनी रहती है। इस आसन को करने से जो महिलाएं कंसीव नहीं कर पाती हैं उन्हें काफी मदद मिलती है।

इसे करने के लिए सबसे योग मैट बिछा लें। और गहरी सांस लें। इसके बाद अपने दोनों हाथों को पैरों की घुटनों से मोड़ते हुए तलवों को जमीन पर पकड़ लें। फिर अपने दोनों विंडो को विंडो करते हुए होठों को पकड़ने की कोशिश करें। फिर इस मुद्रा में सांस रोककर बने रहे. अब अपने चित्रों को सीधे कर लें. ऐसा आफको 5 बार दोहराना है।

ये भी पढ़ें: योग करने के सिर्फ फायदे ही नहीं बल्कि कई नुकसान भी हैं! कहीं आप भी तो ये गलती नहीं कर रहे हैं

नीचे स्वास्थ्य उपकरण देखें-
अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की गणना करें

आयु कैलक्यूलेटर के माध्यम से आयु की गणना करें

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here