Home Lifestyle वेस्टर्न टॉयलेट के इस्तेमाल से होने वाले साइड इफेक्ट

वेस्टर्न टॉयलेट के इस्तेमाल से होने वाले साइड इफेक्ट

0

[ad_1]

वेस्टर्न टॉयलेट के दुष्प्रभाव: आज के इस समुद्र तट में अधिकतर समुद्र तट का ही चलन है। इसे भारतीय समुद्र तट से कई गुना अधिक आरामदायक माना जाता है। वहीं जो लोग समुद्र तट के दर्द से पीड़ित रहते हैं उनके लिए तो समुद्र तटीय समुद्र तट ही चमत्कारी होता है। लेकिन इन अभ्यासों को अगर एक तरफ रखा जाए तो दूसरी तरफ से सेहत को और भी कई सारे नुकसान होते हैं। इससे आपको स्वास्थ्य से संबंधित कई कर्मचारियों का खतरा बढ़ सकता है। आइए जानते हैं इसके बारे में विस्तार से।

समुद्र तट के नुकसान

1.यह शौचालय मल्टीपल लोगों द्वारा उपयोग किया जाता है। यहूदी धर्म की सीट जो होती है वो सीधे शरीर में टच होती है। इससे साफ सफाई में बाधा आ सकती है। इस संक्रमण का खतरा काफी बढ़ जाता है। इस क्षेत्र में बहुत जल्दी संक्रमण होने की संभावना बनी हुई है। इसका कारण यह है कि वेस्टर्न स्टाइल्स की सीट पर स्टेडियम या टीशू पेपर में बैठने की सलाह दी जाती है।

2.इससे कब्ज की समस्या भी हो सकती है। जब हम इंडियन स्टेडियम में बैठते हैं तो हमारा पूरा पाचन तंत्र दबाव बनाता है। जिससे पेट सही से साफ हो जाता है। लेकिन जब आप वेस्टर्न टॉयलेट में होते हैं तो पाचन तंत्र पर कुछ खास दबाव नहीं रहता है। जिस कारण पेट ठीक से साफ नहीं होता और धीरे-धीरे आपको कब्ज की समस्या होने लगती है।

3.समुद्र तट पर इस्तेमाल से यूटीआई का खतरा भी काफी बढ़ जाता है। जब आप घर का टॉयलेट इस्तेमाल करते हैं तो काफी देर तक संक्रमण का खतरा रहता है लेकिन पब्लिक टॉयलेट से ऐसा संभव नहीं है। इसका उपयोग कई सारे लोगों द्वारा किया जाता है जिसके कारण यूरीन संक्रमण हो सकता है। इससे ई कोली इंफेक्शन, प्रोटियस की समस्या हो जाती है।

4.वैश्वियन शौचालय के इस्तेमाल से मल त्यागने वाले द्वार पर सुजान और रसेल की समस्या हो सकती है। क्योंकि वॉटर जेट का मिश्रण तेज होता है जिससे नाड़ी में सूजन हो सकती है या टिशू फैट हो सकता है।

डॉक्टर क्या कहते हैं?

डॉक्टर का कहना है कि जिन लोगों को जोड़ों से जुड़ी कोई परेशानी नहीं है। इन्हें भारतीय शौचालय का ही उपयोग करके बहुत ही जादुई बनाया जा सकता है। क्योंकि भारतीय शौचालय में हमारी बॉडी स्क्वाड शामिल है। इससे पाचन तंत्र पर दबाव पड़ता है और पेट ठीक से साफ होता है। जबकि आपको संक्रमण का खतरा भी नहीं होता.

अस्वीकरण: इस लेख में बताए गए नुस्खे, तरीके और सलाह पर अमल करने से पहले डॉक्टर या संबंधित विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

यह भी पढ़ें: ब्रेन एजिंग पर दिख सकता है मेडिटेरेनियन डाइट का असर, जानें क्या कहते हैं विशेषज्ञ

नीचे स्वास्थ्य उपकरण देखें-
अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की गणना करें

आयु कैलक्यूलेटर के माध्यम से आयु की गणना करें

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here