कच्चे या पक्के स्प्राउट्स: पेट के लिए कौन है ज्यादा स्वादिष्ट और क्या है इसके खाने का सही तरीका

0
53
Spread the love


चना, मूंग या किसी भी तरह के स्प्राउट्स में कई तरह के पोषक तत्व होते हैं। इसे ऊर्जा का पावरहाउस कहा जाता है। कई लोग खाली पेट स्प्राउट्स खाते हैं क्योंकि यह स्वास्थ्य के लिए काफी चमत्कारी होता है। ऐसे में इसे लेकर एक बहस है कि हर वाइट कचराड़ी में क्या रहता है क्या स्प्राउट्स रॉ या स्मोकर को खाना चाहिए? एक दूसरा सवाल यह भी है कि सोलोमन या स्प्राउट्स को खाने का सबसे अच्छा तरीका क्या है? ऐसे व्यक्ति जो अपने स्वास्थ्य को लेकर काफी अधिक सतर्कता रखते हैं उन्हें अपने हिसाब से अनाज को कच्चा ही खाना चाहिए। क्योंकि इसमें काफी मात्रा में कार्बोहाइड्रेट होता है जिसे खाने से पेट अच्छा रहता है।

कच्चा स्प्राउट्स खाना लोगों के लिए सही नहीं है

कच्चे स्प्राउट्स कई तरह के कैल्शियम, एंजाइम्स, विटामिन और आयरन भी मौजूद होते हैं। जिसमें अधिक पोषण शामिल करना चाहिए उनके लिए यह सर्वोत्तम पदनाम होता है। कच्चे अनाज में कैलोरी कम और चारे अधिक होती है। इस वजन को नियंत्रित करने में भी सहायक होता है। दूसरी ओर स्टॉले हुए स्प्राउट्स खाने में नर्म तो होते हैं। इन्हें पचाना भी बहुत आसान है. विशेष रूप से शरीर काफी हद तक संवेदनशील है, वैसे ही लोगों को रॉ के बदले हुए स्प्राउट्स खाने से कई तरह की चुनौती का खतरा भी कम रहता है। जैसे- कच्चे स्प्राउट्स में  साल्मोनेला या ई. कोली जैसे उत्पाद पाए जाते हैं। तो आइए जानते हैं रॉ स्प्राउट्स के सर्वश्रेष्ठ पद के लिए। हालाँकि यह आपको पाचन संबंधि किसी भी तरह की परेशानियाँ हैं तो आपके लिए स्प्राउट्स खाना बेहतर है। 

स्प्राउट्स खाने का है यह सही तरीका

आप कच्चा या पका हुआ किसी भी तरह का स्प्राउट्स आपके शरीर को पोषण देने वाला ही होता है। यह आपके नैचुरल टेस्ट का स्ट्रेंथ तो आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत ही बढ़िया है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यह कई सारे पेट की गंभीर चुनौती से भी आपका बचाव करता है। लेकिन सबसे जरूरी है कि आप अपने स्प्राउट्स खाने से पहले उसे अच्छे तरीके से साफ करें। यह आप खाली पेट, केक के साथ आराम से अपने पदार्थों का हिस्सा बना सकते हैं। 

ये भी पढ़ें: पोहा या चावल, सेहत के लिए क्या है सबसे स्वादिष्ट…यहां है इसका जवाब



Source link

Umesh Solanki

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here