Home Lifestyle गर्मियों में अधिक अपच की समस्याओं से जूझना, जानिए कारण

गर्मियों में अधिक अपच की समस्याओं से जूझना, जानिए कारण

0

[ad_1]

गर्मियों में अपच की समस्या: गर्मियों का मौसम बाहरी मौज-मस्ती, छुट्टियाँ, पहाड़ों में घूमना, वेकेशन, पूल में नहाना और स्वादिष्ट समर ड्रिंक पीने वाला दिन होता है। लेकिन इन सभी में गर्मी के साथ-साथ स्वास्थ्य खराब होने का भी खतरा बना रहता है। इनमें से भी सबसे बड़ी पेट से संबंधित शिकायत है। गर्मियों के महीनों में पाचन संबंधी समस्या बढ़ जाती है। ऐसा क्यों होता है आइए जानते हैं इसके बारे में विस्तार से…

तेल आबंटन भोजन-गर्मी के मौसम में पाचन क्रिया खराब होने का एक प्रमुख कारण है खानपान में विविधताएं बार-बार हम सामाजिक समारोहों में शामिल होते हैं, जहां घोषित किए गए खाद्य पदार्थ का सेवन अधिक हो जाता है, इस तरह के खाद्य पदार्थ अपच के उद्घोषणा को शुरू करने के लिए निकल जाते हैं। हैं. क्योंकि पचने में अधिक समय लगता है और पाचन तंत्र में जलन हो सकती है। इसके अतिरिक्त टुकड़े और तरल पेय का सेवन जो आम तौर पर समुद्र में सार्वभौम पाने के लिए पिया जाता है, ये अपच में योगदान कर सकता है।

पानी की कमी-समुद्र तट के मौसम में सलाह ज़रूरी है क्योंकि डायहाइड्रेशन ना सिर्फ आपको ख़राब महसूस कराता है बल्कि यह अपच होने का कारण भी बन सकता है। जब आप पर्याप्त पानी का सेवन नहीं करते हैं तो पाचन तंत्र भोजन ठीक से टूट जाता है, जिससे कमजोरी और अपच हो सकता है। इसके अलावा पाचन तंत्र में पोषक तत्वों की कमी के कारण पेट में ब्लोटिंग की समस्या हो सकती है।

हाई टेंपरेचर और मैमोरिडिटी-विशेषज्ञ का कहना है कि हाई टेंपरेचर और मैमोरिडिटी का स्तर पाचन पर प्रभाव डाल सकता है। जब आपके शरीर में गर्मी का संपर्क आता है तो शरीर के महत्वपूर्ण अंगों को ठंडा करने के लिए ब्लड फ्लोजेस्टिव सिस्टम से दूर अन्य कार्यों को शुरू कर दिया जाता है। यदि आप गर्मी के मौसम में जल्दी या अधिक सेवन करते हैं तो यह पाचन संबंधी समस्या बन सकती है।

तनाव-तनाव के कारण गर्मियों में भी अपच की समस्या होती है। गर्मियों में रेहड़ी, यात्रा और कई सारे वर्क वर्क के कारण व्यक्तिगत चिंता और तनाव बना रहता है। ऐसे में जब स्ट्रेस हार्मोन रिलीज होता है तो ये पाचन तंत्र की निष्क्रियता बाधित हो जाती है। इससे पाचन धीमा हो जाता है और अपच की समस्या हो जाती है।

ऐसे नियमित पाचन तंत्र का तरीका

1.कहावतें हैं कि गर्मियों में अपने खान-पान के प्रति सचेत रहें। अल्पाहार, ताला और साबुत अनाज से भरपूर भोजन। शराब और कंकाल से शराब पीना.

2.व्युत्पत्ति इनटेक को मस्कारे। पर्याप्त मात्रा में पानी पीने से समस्या आपका दूर हो जाएगी। चीनी या कैफीन युक्त पेय पदार्थों का अत्यधिक सेवन वर्जित है।

3.जब भी खाना बनाएं समय लेकर और धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे-धीरे)। बार-बार खाने से बचती है। क्योंकि ज्यादा खाना खाने से भी अपच की समस्या हो जाती है।

4.पाचन तंत्र को सही ढंग से बनाए रखने के लिए डायजेस्टिव सक्रियता बनाए रखें। योग, मेडिकल, सुपरमार्केट जैसी रूटीन को फॉलो करें तनाव कम करें और डाइजेस्टिव सिस्टम को सही तरीके से खरीदें।

अस्वीकरण: इस लेख में बताई गई विधि, तरकीबें और सलाह पर अमल करने से पहले डॉक्टर या संबंधित विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

यह भी पढ़ें

नीचे स्वास्थ्य उपकरण देखें-
अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की गणना करें

आयु कैलकुलेटर के माध्यम से आयु की गणना करें

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here