Home Feature दिल्ली की सियासी सरगर्मी बढ़ी, MCD में बीजेपी ने स्टैंडिंग कमेटी में जीत के लिए इन नेताओं पर लगाया दांव

दिल्ली की सियासी सरगर्मी बढ़ी, MCD में बीजेपी ने स्टैंडिंग कमेटी में जीत के लिए इन नेताओं पर लगाया दांव

0

[ad_1]

दिल्ली समाचार: नगर निगम निगम (एमसीडी न्यूज) के मेयर के दूसरे पद की शुरुआत के साथ ही स्थायी समिति के सदस्यों के चुनाव के नतीजे घोषित हो गए हैं और इसमें दिल्ली बीजेपी (बीजेपी) और आप (आप) दोनों ही पार्टी में शामिल हैं। अब स्थायी समिति (स्थायी समिति) में विक्टोरा के लिए भारतीय जनता पार्टी को दिल्ली के 12 जोन से सात में जीत हासिल करनी होगी। इनमें से 4 जोन में बीजेपी बहुमत में है और उसे तीन और जोन में जीत हासिल करनी है।

इस बार बीजेपी ने बड़े दांव पर लगे नेता प्रतिपक्ष और उपनेता प्रतिपक्ष सिविल लाइंस और नरेला जोन से तय कर दिया है। स्थायी समिति में वर्चस्व का दावा स्थायी समिति में निगम में पहली बार नेता और उपनेता का विरोध भी किया गया है। जहां सिविल लाइंस जोन के मुखर्जी नगर से बीजेपी ने किलेबंदी राजा भगत सिंह को नेता विरोधी बनाया है तो वहीं नरेला जोन के मुखर्जी नगर वार्ड से बीजेपी ने मजबूत जय भगवान यादव को नेता प्रतिपक्ष बनाया है.

सिविल और नरेला जोन पर टिकी है बीजेपी की नजर

दोनों जोन इसलिए महत्वपूर्ण हैं, क्योंकि इन दोनों जोन में गरीबों और गरीबों के साथ ही स्थायी समिति के सदस्य का चुनाव होता है। अगर इन दोनों जोन से कुछ भी गड़बड़ी हुई तो प्रतिष्ठित समिति का कब्जा भाजपा के हाथ से छूट मिल सकती है।

जोन से 11 सदस्यों का चयन स्थायी समिति में किया जाएगा

बता दें कि 18 सदस्यीय स्थायी समिति में दोनों ही राजनीतिक संप्रदाय के नेता अपने-अपने अधिक से अधिक सदस्य चुनकर बेचना चाहते हैं, जिससे गरीबों और गरीबों के पदों पर कब्जा कर लिया जाता है। इस समिति में नगर निगम के सभी सदस्यों के 6 सदस्य सीधे चुने जाते हैं। जबकि चुनाव के बाद निगम के 12 अलग-अलग जोन से एक-एक सदस्य चुनकर आएंगे। स्थायी समिति के 12 सदस्यों का चुनाव 12 जोन से होता है और सभी 12 सदस्यों का चुनाव सभी 12 जोन के दिग्गजों और प्रतिनिधियों के साथ होगा। स्थायी समिति के 18 सदस्यों में से 6 सदस्यों और 12 सदस्यों में से 12 सदस्यों का चुनाव होने के बाद स्थायी समिति के 18 सदस्यों और 12 सदस्यों में से 12 सदस्यों का चुनाव होगा।

12 में से 7 जोन में बीजेपी को करनी होगी जीत हासिल

नगर निगम में स्थायी समिति पर कब्जा करने के लिए भाजपा को सात और सदस्यों को स्थायी समिति में जोन से जिताकर नुकसान होगा। बीजेपी के पास चार जोन में पहले से ही बहुमत है. इसमें पूर्वी दिल्ली का शाहदरा साउथ, शाहदरा नॉर्थ, नजफगढ़ और केशवपुरम जोन हैं। बीजेपी को तीन और जोन में जीतना है, क्योंकि नरेला सिविल लायंस और सेंट्रल जोन में जीत के लिए बीजेपी उपराज्यपाल मनोनीत एल्डरमैन का सहारा लेना चाहते हैं, क्योंकि उनकी मदद से बहुमत न होने के बाद भी बीजेपी इन जोन में बहुमत के करीब या बहुमत में पहुंच गया है.

यह भी पढ़ें: दिल्ली फ्री बिजली: अरविंद केजरीवाल का योगी आदित्यनाथ पर तंज, दिल्ली में बिजली फ्री, यूपी में बिजली कटौती क्यों?

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here