Home Lifestyle गिलोय का सेवन: बारिश के मौसम में सुरक्षित रहने के लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता का मजबूत होना जरूरी है। इसमें गिलोय आपकी मदद कर सकती है। शरीर से बुखार भगाने के लिए आप गिलोय का काढ़ा पी सकते हैं। एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटी-पाइरेटिक गुण के कारण ये बुखार को ठीक नहीं करता है।

गिलोय का सेवन: बारिश के मौसम में सुरक्षित रहने के लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता का मजबूत होना जरूरी है। इसमें गिलोय आपकी मदद कर सकती है। शरीर से बुखार भगाने के लिए आप गिलोय का काढ़ा पी सकते हैं। एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटी-पाइरेटिक गुण के कारण ये बुखार को ठीक नहीं करता है।

0

[ad_1]

नीम की पत्तियां: हर दिन अगर आप नीम की पत्तियों को खाते हैं तो तेज बुखार, मलेरिया, फ्लू, वायरस और वायरस समेत कई संक्रमणों को आसानी से ठीक कर सकते हैं। इन पत्तों में बिल्डर और वायरस को ख़त्म करने की क्षमता होती है।

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here