बिना दवा के एसिड रिफ्लक्स से राहत पाने के नौ तरीके | गैस

0
91
 बिना दवा के एसिड रिफ्लक्स से राहत पाने के नौ तरीके |  गैस
Spread the love


खराब लाइफस्टाइल और एक्सीडेंट की वजह से एसिडिटी और गैस की समस्या आम बात है। इसकी वजह से कई तरह की एजेंसियों का भी सामना करना पड़ता है। इन्हीं में से एक गैस- एसिडिटी से जुड़ी समस्या भी है। कई लोगों को गैस की शिकायत होती है। लेकिन कुछ लोगों को काफी ज्यादा होता है। स्वस्थ जानकारों के मुताबिक यह बीमारी नहीं बल्कि लाइफस्टाइल से जुड़ी समस्या है। अगर आपको ज्यादा एसिडिटी और गैस की समस्या है तो सबसे पहले आपको अपनी लाइफस्टाइल में कुछ खास सुधार करने की जरूरत है। साथ ही साथ आपको अपने सोने और खाने की टाइमिंग का खास ख्याल रखना होगा। आइए जानते हैं क्या करना सही रहेगा।

कम करवट लेकर सोने से फायदा?

स्वास्थ्य जानकार के अनुसार गैस-एसिडिटी की परेशानी आपको अगर कई दिनों में एक बार होती है तो सबसे पहले आप एक काम करें। आप अपना सबसे पहला स्लीपिंग पोजीशन ठीक कर लें। तो आपको गैस की परेशानी कम होगी। इसके अलावा आप बिल्कुल सटीक सी हो रहे हैं तो ऐसे में आप नीचे करवट ले सकते हैं तो आपको तुरंत आराम मिल जाएगा। इससे आपका दिमाग और शरीर दोनों शांत हो जाएंगे। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि नीचे की तरफ करवट करके सोने से कई सारे फायदे होते हैं।

निचले करवट सोने से दिल पर जोड़ नहीं रखता। दिल काफी हेल्दी रहता है। साथ ही दिमाग और दिल दोनों अच्छे से काम करता है। शांत दिमाग से सोएंगे और आपके दिल से बिल्कुल अच्छे से काम करेंगे। इससे दिल पर दबाव भी नहीं पड़ता। जिन लोगों को रात में सोते समय नींद लेने की आदत होती है। उन्हें बिल्कुल नीचे की ओर करवट लेकर सोना चाहिए क्योंकि उनकी यह आदत बिल्कुल ठीक है। /एस

पाचन क्रिया ठीक से काम करती है

जिन लोगों को काफी ज्यादा गैस-एसिडिटी और सीने में जलन होने की शिकायत होती है। उन्हें नीचे की ओर करवट करके ही सोना दिया जाना चाहिए। ऐसा करने से पेट का पाचन तंत्र सटीक अच्छे से काम करता है। इस पर किसी तरह का दबाव नहीं पड़ता है। साथ ही थकान भी दूर होती है।

रात को नीचे की ओर करवट करके सोने से हमारा लिवर सटीक अच्छे से काम करता है और हेल्दी रहता है। साथ ही कब्ज, सीने में जलन, जलन, जलन की समस्या से भी राहत मिलती है। साथ ही बिना किसी पेट की गड़बड़ी से हम आराम से काम कर सकते हैं।

रीढ़ की हड्डी मजबूत होती है

स्वस्थ वैज्ञानिक के अनुसार निचला करवट सोने से रीढ़ की हड्डी मजबूत होती है। साथ ही पूरे शरीर में ब्लड फ्लो सटीक रहता है। और सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि कम करवट से हमारा दिमाग और स्वास्थ्य दोनों ही स्वस्थ्य रहते हैं।

ये भी पढ़ें: Honey Garlic Benefits: रोज़ाना पेट ठीक करने वाला शहद और लहसुन, कई लोग दूर हो जाएंगे, स्वास्थ्य को हैरान करने वाले फायदे

नीचे स्वास्थ्य उपकरण देखें-
अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की गणना करें

आयु कैलक्यूलेटर के माध्यम से आयु की गणना करें



Source link

Umesh Solanki

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here