Home Lifestyle शराब महिलाओं के स्वास्थ्य को कैसे प्रभावित करती है, पूरा लेख पढ़ें

शराब महिलाओं के स्वास्थ्य को कैसे प्रभावित करती है, पूरा लेख पढ़ें

0
शराब महिलाओं के स्वास्थ्य को कैसे प्रभावित करती है, पूरा लेख पढ़ें

[ad_1]

तनावपूर्ण हो या कम शरीर के लिए नुकसानदायक ही होता है। वहीं कई लोग फड़फड़ाते हुए घूरने लगे हैं. क्योंकि लोगों में यह धारणा है कि महिलाओं में फैट की मात्रा कम होती है। रेड वाइन को लेकर हाल ही में एक रिपोर्ट सामने आई है। माँ दिल के लिए अच्छा है। क्योंकि इसमें एंटीऑक्सीडेंट भारी मात्रा में पाए जाते हैं। आजकल महिलाओं को फेसबुक बहुत ज्यादा पसंद है। लेकिन आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यह स्वास्थ्य के लिए काफी अधिक नुकसानदायक हो सकता है। विशेष रूप से महिलाएं अधिक मात्रा में मां पीती हैं तो उनके हार्टमोन्स का संतुलन बिगड़ सकता है। जो आगे चलकर स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों का सामना भी कर सकता है। पीरियड्स में देरी, पेट में तेज दर्द, पीसीओएस, लगातार करने में परेशानी, घबराहट और मिजाज में गड़बड़ी भी हो सकती है।

महिलाओं को क्यों नहीं पीना चाहिए…

महिलाओं के पीने से किसी भी इंसान के अंदर का स्तर बढ़ता जा रहा है। खासकर लड़कियां अगर मां पीती हैं। शराब पीने से यहां हमारा मतलब एक या दो गिलास नहीं बल्कि कौन ज्यादा मात्रा में शराब पीने की आदत है तो ऐसी महिलाओं को पीरियड्स में लेट या उनके साइड बबल बॉडी पर दिख सकते हैं। साथ ही साथ यह उनके वजन को भी प्रभावित कर सकता है।

अगर महिलाओं के हार्मोन का संतुलन बिगड़ जाता है तो विपरीत दिशा होती है। तो इससे जन्म की क्षमता भी प्रभावित होती है साथ ही कंसीव करने में भी परेशानी होती है।

ज्यादा शराब पीने से वजाइना में ड्राइनेस और हॉट फ्लैशेज की परेशानी शुरू हो जाती है।

थायरॉयड ग्रंथि टी3 और टी4 हार्मोन बनाता है। जो मेटाबॉलिज्म को मजबूत करने में सहायक होता है। क्योंकि अगर आपकी थायरॉयड ग्रंथि में परेशानी शुरू हो गई है तो योग आपको अवसाद और थकान का कारण भी बन सकता है।

ये भी पढ़ें: अगर के 10 दिन बाद गौहर खान ने घटाया अपना 10 किलो वजन, जानकार से जानिए ऐसा करना कितना खतरनाक?.

नीचे स्वास्थ्य उपकरण देखें-
अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की गणना करें

आयु कैलक्यूलेटर के माध्यम से आयु की गणना करें

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here