[ad_1]

स्वस्थ आदतें हानिकारक हो जाती हैं: रोज़मर्रा की कुछ आदतें होती हैं जिनके बारे में बचपन से सुनने से मिलता है कि ये अच्छी आदतें हैं, ये हेल्दी आदतें हैं। कुछ लोग कम उम्र से ही उन विशेषज्ञों का अनुसरण करने वाले भी हैं। वैसे तो ये ऐसी रिश्ते हैं रविवार अच्छी होने की कोई संभावना नहीं है। लेकिन ऐसा भी कहा जाता है कि अति हर चीज की बुरी होती है। फिर वो चाहे अच्छा हो या बुरा हो। आपके कथन हैं कि कौन सी आदतें अच्छी होने के बावजूद बुरी साबित हो सकती हैं यदि वे अति हो जाएं तो।

अधिकार बनाना

बच्चों से लेकर बड्डो तक को ये सीख दी गई है कि सुबह और रात को सोने से पहले मांजना चाहिए। ये एक अच्छी आदत है। लेकिन कुछ लोगों के दांतों की सेहत को लेकर इतने फिक्रमंद हो जाते हैं कि फोर्सेस लेकर थोड़ी देर तक असर करने लगती हैं। इससे दातों को नुकसान होता है। दांतों को हमेशा खाने के कम से कम घंटे बाद साफ करना चाहिए और कम फोर्स के साथ थोड़ी जल्दी इस प्रक्रिया को पूरा करना चाहिए।

पानी पीना

शरीर को हाईड्रेट रखने के लिए पानी पीने की सलाह दी जाती है। लेकिन हर व्यक्ति के लिए पानी की अलग-अलग मात्रा जरूरी है। कुछ लोगों को ज्यादा पानी पीने से परेशानी हो सकती है। ज्यादा पानी पीने से ब्लड में सोडियम डायल्यूट होने लगता है। पानी की रिक्वायरमेंट आपके शरीर के होश से ही तय करनी होगी।

योनि का मिश्रण

बहुत से लोग ज्यादा से ज्यादा डाइट खाने के चक्कर में कई तरह की स्किन मिक्स कर लेते हैं। हर तरह का कॉम्बिनेशन भी फिट फिट नहीं करता। कुछ ऐसे कॉम्बिनेशन होते हैं जो ब्लोटिंग या गैस के कारण बनते हैं। इसलिए हर तरह की सब्जी मिक्स कर खाने की जगह अपनी जरूरत के हिसाब से मिक्स तैयार करें।

कठिन परिश्रम करना

अगर कसरत करते हैं तो थकान महसूस होने लगती है तो समझिए कि आप अपने शरीर को ज्यादा परेशान कर रहे हैं। ऐसे वर्कआउट से आप एनर्जी मिलने की जगह देखेंगे और गुस्सा ज्यादा मिलने लगेंगे। हो सकता है आपकी नींद भी प्रभावित हो।

यह भी पढ़ें

नीचे स्वास्थ्य उपकरण देखें-
अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की गणना करें

आयु कैलक्यूलेटर के माध्यम से आयु की गणना करें

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *