इन 5 स्वास्थ्य समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए आजमाएं ये एक आयुर्वेद उपाय

0
57
Spread the love


अनहेल्दी लाइफस्टाइल, बेकार खान-पान की आदतें और एक्सरसाइज में कमी की वजह से लोग आजकल कई तरह की बीमारियों से परेशान होने लगते हैं। उन्हें मानसिक तनाव हो रहा है। उम्र से पहले उम्र के रोग लग रहे हैं और भी न जाने क्या-क्या हो रहा है। कुछ लोग शारीरिक और मानसिक बीमारियों से जोखिम लेने के लिए अतिसंवेदनशील रुख कर रहे हैं। जबकि कुछ लोग आज भी आयुर्वेद को अपना हर इशारा की औषधि बनाए हुए हैं। आयुर्वेद की खास बात यह है कि इसकी गोद में कई बीमारियों के लिए घरेलू दवाएं सच में इस्तेमाल करने के लिए न तो किसी के चक्कर काटती हैं और न ही ज्यादा पैसा खर्च करती हैं। बस आपको सब्र और परहेज करना है।

आयुर्वेद से आज हम एक ऐसा इलाज लेकर आए हैं, जो कई बीमारियों की एक साथ छुट्टी कर सकता है। देसी घी का नाम तो आपने सुना ही होगा, जिसका इस्तेमाल खाना बनाने के साथ-साथ कई बीमारियों के इलाज में भी किया जाता है। जानकार आरोप लगाते हैं कि पूरे नाक में शुद्ध देसी घी डालने से शरीर के कई जीवाणु दूर हो सकते हैं।

मिलेंगे ये फायदे

1. दिमाग के लिए लाभ: नाक में घूस डालने से मस्तिष्क के कार्यों में सुधार होता है। ये तंत्रिकाओं को समझ लेता है, जिससे संग्रह को बढ़ाने में मदद मिलती है। इस नुस्खे से चिंता, तनाव जैसी मानसिक परेशानी से भी राहत मिलती है।

2. सिर में दर्द से राहत: अगर आप बार-बार सिर में दर्द की समस्या का सामना करते हैं या आपको माइग्रेन की समस्या है तो आप रोजाना रात को सोने से पहले नाक में घी जरूर डालें। इससे न सिर्फ आपको सिरदर्द की परेशानी से राहत मिलेगी, बल्कि माइग्रेन के दर्द से भी राहत मिलेगी।

3. अच्छी नींद: अगर आपको सोने में मोटापा महसूस होता है या लाख कोशिशों के बावजूद नींद नहीं आती है तो आयुर्वेद के यह निश्चित रूप से कुछ खास और एक दिन रात को सोने से पहले नाक में घी की दो मिलावट डालें। इससे आपको अच्छी नींद आएगी।

4. चमकती त्वचा: चमकदार त्वचा पाने की ख्वाहिश रखने वाले लोग भी नाक में घी जरूर डालते हैं। इससे चेहरे पर दाग-धब्बे और रूखी त्वचा की समस्या और बढ़ जाती है।

5. सुंदर बाल: बालों की समस्या से जूझ रहे लोगों को भी नाक में घी डालना चाहिए। इससे न सिर्फ बालों के झड़ने की परेशानी का समाधान होगा, बल्कि बालों की परेशानी भी बनी रहेगी।

अस्वीकरण: इस लेख में बताए गए नुस्खे, तरीके और सलाह पर अमल करने से पहले डॉक्टर या संबंधित विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

ये भी पढ़ें: ‘गुस्सा’ भी कम जानलेवा नहीं, खोखला कर देता है शरीर का संतुलन, इन बीमारियों को हवा देता है

नीचे स्वास्थ्य उपकरण देखें-
अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की गणना करें

आयु कैलक्यूलेटर के माध्यम से आयु की गणना करें



Source link

Umesh Solanki

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here