ट्रांसजेंडर सर्जरी के बारे में सच्चाई डिस्फोरिया के मरीज ऑपरेशन से गुजरते हैं

0
50
Spread the love


ट्रांसजेंडर्स की सर्जरी का एक खौफनाक सच सामने आया है। दरअसल, हाल ही में ‘जेंडर डिस्फोरिया’ को लेकर डेली मेल पर एक रिपोर्ट छपी है। बहुत से लोग जानते हैं लेकिन जो नहीं जानते उन्हें बताते हैं कि जेंडर डिस्फेरिया का मतलब होता है। ऐसे लोगों को यह महसूस होता है कि उनका जो नैचरल जेंडर है, उसकी फिजिकल पहचान से मेल नहीं खाता है। यानी जिस जेंडर के साथ आपने जन्म लिया है वह आपकी पर्सनालाइट से मेल नहीं खा रही है। ऐसे लोग जेंडर चेंज करने के लिए सर्जरी का सहारा लेते हैं।

डेली मेल में छपी रिपोर्ट के अनुसार ‘जेंडर डिस्फोरिया’ से पीड़ित लोग जेंडर चेंज करने के लिए सर्जरी करते हैं तो करवा लेते हैं लेकिन ऑपरेशन के बाद भी उन्हें कई तरह का शारीरिक शोषण का सामना करना पड़ता है। इस रिपोर्ट में एक सर्वे का भी जिक्र किया गया है जिसमें बताया गया है कि 16 साल यानी 6 में से एक ने जेंडर चेंज करने के लिए ऑपरेशन का सहारा लिया है। लेकिन ऑपरेशन के बाद भी उन्हें काफी मुश्किलें और दर्द का सामना करना पड़ा।

क्या स्टेट्स है

जांच के आरोप हैं कि आधे से अधिक ट्रांस पुरुष और महिलाएं ऑपरेशन के बाद दूसरी तरह की शारीरिक लापरवाही से परेशान होती हैं और दर्द से इतने गंभीर रूप से पीड़ित होती हैं कि उन्हें महीनों तक डॉक्टरी इलाज का सहारा लेना पड़ता है। फिर भी वह पूरी तरह से ठीक नहीं हो रहा है।

ट्रांसजेंडर्स की सर्जरी का खौफनाक सच

यह ऑपरेशन काफी अधिक कठिन होता है क्योंकि इसमें शरीर के अन्य अंगों की नसों, चिपचिपा, मांसपेशियों और त्वचा का उपयोग करके विपरीत लिंग के रूप को तैयार किया जाता है। सर्जनों के लिए यह ऑपरेशन करना काफी मुश्किल से होता है क्योंकि इसमें कई तरह के ब्लड सर्कुलेशन को ठीक किया जाता है। जो कि काफी हद तक एक साथ एक साथ होते हैं शरीर के रक्त वैसे ही, नसों के नेटवर्क ठीक होने का भी ध्यान रखना होता है। टॉयलेट पास होने में कोई परेशानी न हो या भविष्य में इरेक्शन में कोई परेशानी न हो इसलिए भी सारे नर्वस का खास ध्यान रखा जाता है। इसलिए यह सर्जरी काफी मुश्किल होती है।

लिंग परिवर्तन सर्जरी के केसे हाल के वर्षों में देती हैं। सर्वे के मुताबिक अमेरिका में छह ट्रांसजेंडरों में से एक ने लिंग-विभेदी सर्जरी का चयन किया है। साल 2006 से लेकर 2011 के बीच 84 ट्रांसजेंडर ट्रांसजेंडर ने सर्जरी का फैसला लिया। लेकिन जो इस सर्जरी से सर्तक हैं वह ऑपरेशन के बाद भी काफी दर्द में अपना जीवन व्यतीत कर रही हैं।

ये भी पढ़ें: इस बीमारी में भ्रम की तरह फूल जाता है शरीर, लक्षणों को पहचानकर जीवनशैली में सुधार करें

नीचे स्वास्थ्य उपकरण देखें-
अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की गणना करें

आयु कैलक्यूलेटर के माध्यम से आयु की गणना करें



Source link

Umesh Solanki

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here