रोबोट द्वारा ट्रांसप्लांट किया गया महिला का गर्भाशय बच्चे को जन्म देता है | दुनिया का पहला मामला

0
39
Spread the love


रोबोटिक गर्भाशय प्रत्यारोपण: विज्ञान ने आज हमारे जीवन को बहुत ही आसान बना दिया है। इसका सबसे बड़ा उदाहरण मेडिकल सेक्टर में रोबोटिक सर्जरी है। रोबोटिक सर्जरी का इस्तेमाल काफी बढ़ गया है और इसकी मदद से अब मुश्किल से मुश्किल ऑपरेशन किया जा रहा है। रोबोट की मदद से एक अतिथि महिला का गर्भाश्य ट्रांसप्लांट किया गया है। रोबोट द्वारा किए गए यूटरस ट्रांसप्लांट के बाद महिला प्रेग्नेंट हो गई है और अब वह बच्चों को जन्म देती है। बता दें कि पिछले महीने ही महिला ने प्लान्ड सी सेक्शन के जरिए बच्चे को जन्म दिया है। मां और बच्चा दोनों ही सुरक्षित हैं। यह उन हजारों महिलाओं के लिए एक महत्वपूर्ण खोज है जो बच्चा पैदा करना चाहती हैं, लेकिन जटिलताओं के कारण ऐसा नहीं कर रहे हैं। वह स्वीडन में गोथेनबर्ग विश्वविद्यालय के सहलग्रेंस्का विश्वविद्यालय अस्पताल की टीम ने जानकारी देते हुए बताया कि जन्म के समय बच्चे का वजन 3 किलोग्राम और 100 ग्राम वजन था। जन्म जेने 35 वर्ष की मां और दाता सभी ठीक है।

रोबोटिक यूटरस ट्रांसप्लांट से बच्चे का जन्म

आपको ये भी बता दें कि अक्टूबर 2021 में सहलग्रेंस्का यूनिवर्सिटी अस्पताल में रोबोट के जरिए यूटरस ट्रांसप्लांट किया गया था। जिसके बाद महिला की प्रजन क्षमता सहित सभी परीक्षण किए गए जिसके बाद महिला ने आईवीएफ टेक्नोलॉजी के जरिए प्रेग्नेंट किया। डॉकटर ने ये भी बताया कि होने वाली मां अपनी प्रेग्नेंसी के दौरान अच्छा महसूस कर रही थी, उनमें से 38वें सप्ताह में योजना सी-सेक्शन से बचने को जन्म दिया। दिया है.डॉक्टरों का कहना है कि ये रोबोट प्रोजेक्ट के जरिए सालों में आने वाले यूटरस ट्रांसप्लांट और प्रेग्नेंट होने की उम्मीद है.

ऐसा हुआ यूटरस ट्रांसप्लांट

महिला की मिनिमली इनवेसिव सर्जरी की गई। आपको बता दें कि मिनिमल इवेसिव सर्जरी वो होती है जिसमें शरीर पर बिना बड़े घाव के ही सर्जरी की जाती है। इसमें ब्लड लॉस कम होता है। पारंपरिक ओपन सर्जरी की तुलना में ये विधि डोनर के लिए काफी कम आक्रमक है। यूटरस लेने वाली महिला के टैटू में भी यही किया गया था। एक छोटे चीरे के माध्यम से गर्भाशय को टेकर महिला की श्रोणि में डाला गया। पहले इसे रक्त वाहिकाओं से सिल दिया गया और फिर योनि और सहायक टिशु से सिल दिया गया। इन सभी चरणों में रोबोट सर्जरी द्वारा सहायता प्रदान की गई।

अस्वीकरण: इस लेख में बताए गए नुस्खे, तरीके और सलाह पर अमल करने से पहले डॉक्टर या संबंधित विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

ये भी पढ़ें: पीरियड्स के उन 5 दिनों में भूल भी नहीं जबरदस्ती ये चीजें, नहीं तो फर्टिलिटी पर पड़ता है बुरा असर

नीचे स्वास्थ्य उपकरण देखें-
अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की गणना करें

आयु कैलक्यूलेटर के माध्यम से आयु की गणना करें



Source link

Umesh Solanki

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here