Home Lifestyle भारत में मधुमेह पर ब्रिटेन की रिपोर्ट जानिए इससे दूर रहने के लिए क्या करें

भारत में मधुमेह पर ब्रिटेन की रिपोर्ट जानिए इससे दूर रहने के लिए क्या करें

0

[ad_1]

मधुमेह से कैसे दूर रहें: डेल्टा के मामले में भारत के आंकड़े रोज़ चौंका रहे हैं। मौजूदा समय में डायबिटिक पेशेंट की संख्या 101 मिलियन है। अब से तीन साल पहले देश में मधुमेह रोगी 70 मिलियन के करीब थे। सिर्फ इतना ही प्री डायबिटिक नहीं है, यानी ऐसे लोग जो डायबिटिज के मुहाना पर जताते हैं, उनकी संख्या ही 136 मिलियन के करीब है, यानी देश की आबादी का 15.3 प्रतिशत हिस्सा इसकी जद में है।

गोवा में सबसे ज्यादा डाइबिटीज के मरीज हैं

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार यूके के मेडिकल जर्नल लैंसेट में प्रकाशित करें रिपोर्ट के अनुसार देश में सबसे ज्यादा यात्रियों में से एक गोवा में है। उसके बाद पुदुचेरी और केरल में। उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और बिहार में इसकी रफ्तार कुछ कम है। जो लोग प्रीडायबिटिक हैं वे इस बीमारी से बचते हैं तो कुछ चीजों को नियमित रूप से जरूर करना चाहिए।

वजन घटाएं

आपका वजन अगर ज्यादा है तो उसे आज से ही कम करने की कोशिश शुरू कर दें। आपके वजन को 5 से 10 प्रतिशत घटाकर आप डायबिटिज के डैमेज को बोल सकते हैं।

खान पान में बदलाव

वजन कम करने के अलावा अपनी डाइट में हेल्दी कार्ब्स और प्रोटीन को शामिल करना भी बहुत जरूरी है। अपने डाइट में सबसे ज्यादा हो विशेष धान्य, फल और जागरूक शामिल हों। इसके अलावा अनहेल्दी एड और शुगर वाले खाने में शॉट लें।

व्यायाम करें

रोज न सही लेकिन एक हफ्ते में कम से कम पांच दिन में कसरत की आदत जरूर डालें। आप सक्रिय रहेंगे डायबिटिज का खतरा उतना ही कम होगा।

नकारात्मक बातों से बचें

सिगरेट पीने की लत का स्तर देखता है। इससे टाइप 2 डायबिटिज का खतरा हो सकता है। आप पहले सिगरेट या शराब के आदि हैं तो उन्हें तौबा करना शुरू कर दें।

डॉक्टर को दिखाएं

टाइप 2 डायबिटिज से बचने के लिए समय पर डॉक्टर की राय लेना भी जरूरी है। यदि आप जोखिम के निकट पहुंच रहे हैं तो डॉक्टर की सलाह आपके लिए विलंबित हो सकती है।

यह भी पढ़ें

नीचे स्वास्थ्य उपकरण देखें-
अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की गणना करें

आयु कैलक्यूलेटर के माध्यम से आयु की गणना करें

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here