Home Lifestyle योगिनी एकादशी 2023 कब है गजकेसरु शोभन योग भगवान विष्णु पूजा मुहूर्त विधि का महत्व

योगिनी एकादशी 2023 कब है गजकेसरु शोभन योग भगवान विष्णु पूजा मुहूर्त विधि का महत्व

0

[ad_1]

योगिनी एकादशी 2023: हिंदू धर्म में एकादशी को सबसे श्रेष्ठ व्रत माना जाता है। अभी आषाढ़ माहा चल रहा है। आषा माह के कृष्ण पक्ष की योगिनी एकादशी बहुत प्रसिद्ध जानी जाती है। इस दिन श्रीहरि के निमित्त व्रत, पूजन, दान करने से समस्त पापों का नाश होता है।

इस साल योगिनी एकादशी 14 जून 2023 बुधवार को है। मान्यता है कि योगिनी एकादशी व्रती होती है उनके सभी प्रकार के अपयश और कर्म स्वीकृति से मुक्तिकर जीवन सफल बनाने में सहायक है। इस बार योगिनी पर बहुत खास योग बन रहा है जो युगल फल प्रदान करेगा।

योगिनी एकादशी 2023 मुहूर्त (Yogini Ekadashi 2023 Muhurat)

आषा कृष्ण योगिनी एकादशी तिथि शुरू – 13 जून 2023, सुबह 09:28

आषा कृष्ण योगिनी एकादशी तिथि समाप्त – 14 जून 2023, सुबह 08:28

  • योगिनी एकादशी पारण मुहूर्त – सुबह 05:22 – सुबह 08:10 (15 जून 2023)

योगिनी एकादशी 2023 शुभ योग (Yogini Ekadashi 2023 shubh Yoga)

योगिनी एकादशी पर चंद्रमा मेष राशि में होगा, वहीं गुरु भी मेष राशि में विराजमान है। ऐसे में इस दिन गुरु और चंद्रमा की युति गजकेसरी योग का निर्माण हो रहा है। वहीं इस दिन सुबह शोभन योग भी रहेगा।

शोभन योग- 13 जून 2023, सुबह 05.55 से 14 जून 2023, सुबह 04.18 बजे

गजकेसरी योग – ज्योतिष शास्त्र के अनुसार गुरु और चंद्रमा जब किसी राशि में साथ रहते हैं तो गजकेसरी योग बनता है, जिसे बहुत शुभ फल माना जाता है। इसके बारे में कहा जाता है कि गज यानी हाथ और केसरी का अर्थ यहां स्वर्ण से हैं। यानी ताकतों और धन से रंगीन योग है। इसका लाभ उठाने के लिए योगिनी एकादशी पर दर्शनीय स्थलों का दान करें और विष्णु-शिव जी की पूजा करें।

योगिनी एकादशी के उपाय (Yogini Ekadashi Upay)

  • योगिनी एकादशी पर व्रत धारण दोनों सुबह-शाम श्रीहरि का स्मरण करें। इस दिन गजेन्द्र मोक्ष का पाठ करने से पितरों की तृप्ति मिलती है और व्यक्ति के पाप धुल जाते हैं। प्राप्तकर्ता के वंश में वृद्धि होती है।
  • योगिनी एकादशी पर पीपल का पौधा लगाना बहुत माना जाता है, इससे नौकरी में आ रही रुकावट खत्म होती है और धन आगमन होता है। संभव हो तो इस दिन भगवद्गीता के 11वें अध्याय का पाठ करें।

पर्स कलर ज्योतिष: कहीं आप गलत रंग का पर्स लेकर तो नहीं घूम रहे हैं? लकी रंग के अनुसार अपनी राशि जानें

अस्वीकरण: यहां बताई गई जानकारी सिर्फ संदेशों और जानकारियों पर आधारित है। यहां यह बताता है कि ABPLive.com किसी भी तरह की मान्यता, सूचना की पुष्टि नहीं करता है। किसी भी विशेषज्ञ की जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित सलाह लें।

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here